मुख्यमंत्री आगर में बैजनाथ महादेव मंदिर के लिए 2 मार्च को करेंगे 5 करोड़ की घोषणा:प्रभारी मंत्री

आगर-मालवा-प्रदेश सरकार की जय किसान ऋण माफी योजनान्तर्गत मंगलवार को आगर तहसील के कृषकों हेतु पुरानी कृषि उपज मंडी आगर में तहसील स्तरीय किसान सम्मेलन मध्यप्रदेश शासन के किसान कल्याण तथा कृषि विभाग, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग मंत्री सचिन सुभाष यादव के मुख्य आतिथ्य एवं नगरीय विकास एवं आवास विभाग मंत्री तथा प्रभारी मंत्री जयवर्द्धनसिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। मंत्री द्वय ने जय किसान ऋण माफी योजना के द्वितीय चरण में आगर तहसील के 2848 किसानों को 18 करोड़ 64 लाख रुपए के ऋण माफी पत्रों के साथ किसान सम्मान पत्रों का वितरण किया गया। इसके साथ ही मंच से मंत्री द्वय द्वारा शासन की योजनान्तर्गत कृषक राधेश्याम पिता धुलाजी निवासी सालरी तथा मोहनलाल पिता पीरूलाल निवासी पिपलोन को ढ़ाई-ढाई लाख रुपए के अनुदान पर ट्रेक्टर स्वीकृत होने पर चाबी प्रदाय की गई। कृषक शम्भूसिंह पिता नवलसिंह थड़ौद को रोटावेटर पर 44 हजार रुपए का अनुदान प्रमाण पत्र प्रदाय किया गया है। 


कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती एवं भगवान बलराम का विधिवत् पूजन कर किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर संजय कुमार, पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह,जिला कांग्रेस अध्यक्ष बाबूलाल यादव, राष्ट्रीय सह सचिव कांग्रेस संजय कपूर, पूर्व संसाद नारयणसिह आमलाबे, एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े,वरिष्ठ कांग्रेस नेता दुर्गाप्रसाद पालीवाल, प्रशासक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाजापुर व आगर-मालवा विरेन्द्रसिंह गोहिल, पूर्व विधायक रामलाल मलवीय, जिला पंचायत उपाध्यक्ष देवकरण गुर्जर, राजमल सोनी, हिदायतउल्लखान, शंकरसिंह सिसौदिया, भेरूसिंह परिहार, गुड्डूलाला, शीतल जैन, अंकुश भटनागर, इन्दुबाला बिलरवान, रोजमेरी डण्डेल, शमीउल्ला कुरैशी, पिन्टू जायसवाल, नितिनगर्ग, निलेश पटेल, राजकुमार गौरे, हनुमानदास गुप्ता, देवेन्द्र वर्मा, मोनिका शर्मा, सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण मंचासीन रहे। 
   कार्यक्रम को मंत्री सचिन सुभाष यादव ने संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार बनते ही पहले फसल ऋण माफी कर किसानों की आकांक्षाओं के अनुरूप कार्य किया हैं। सरकार ने अल्प समय में कई अहम निर्णय किसानों के हित में लिए है, जिसका लाभ उन्हें मिल रहा है। मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने 365 दिनों में 365 वचनों को पूरा किया है। जिसमें सबसे महत्वपूर्ण किसान फसल ऋण माफी है, जिससे किसानों के चेहरे पर खुशी आई है। शासन ने योजना बनाकर उन्हें धरातल पर उतारकर, असम्भव को सम्भव किया है। कर्जमाफी कर कई किसानों के लिए बैंकों के बंद दरवाजे पुनः खोल दिए गए है। प्रथम चरण में 50 हजार रुपए तथा द्वितीय चरण में 50 हजार से एक लाख रुपए तक कर्ज माफ किया गया है। शेष किसानों को कर्ज तृतीय चरण में माफ किया जाएगा। मंत्री श्री यादव ने कहा कि किसानों को विद्युत बिल आधा कर दिया हैं, उन्हें अब पहले से आधी राशि का बिल ही चुकाना पड़ रहा है। कृषि यंत्रों पर सब्सिडी बड़ाकर 50 प्रतिशत कर दी गई है। मंडियों में किसान की फसल भंडारण की व्यवस्था भी शीघ्र शुरू की जाएगी।  मंत्री श्री यादव ने कहा कि कृषक रासायनिक एवं कीटनाशकों को उपयोग खेती में कम करते हुए, जैविक खेती की ओर अग्रसर हो। जिससे उत्पादन भी अच्छा होगा और दाम भी अधिक मिलेगा। किसान कृषि के साथ-साथ पशुपालन भी करें। जिससे दोहरा मुनाफा होगा। गाय एवं भेंस से निकलने वाले गोबर, मुत्र को खेती में खाद के रूप में प्रयोग करने से खेती लागत कम होगी तथा दूध का विक्रय कर अतिरिक्त आमदनी होगी।
  प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने कहा कि फसल कर्ज माफी कर प्रदेश सरकार ने अपना वचन निभाया है। कृषक अपने दो लाख रुपए तक कर्ज से मुक्त हो गया है। द्वितीय चरण में पहले बड़ौद के कृषकों को ऋण माफी पत्र बांटे गए और आज आगर तहसील के कृषकों को ऋण माफ किया जा रहा है। जिले के सभी पात्रों को योजना का लाभ मिलेगा, कोई भी कृषक लाभ से वंचित नहीं रहेगा। प्रदेश की वर्तमान सरकार किसानों के हर दुःख-दर्द में उनके साथ खड़ी है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जल मिशन अन्तर्गत जिले के लिए 615 करोड़ रुपए की योजना स्वीकृत हुई है। योजना से जिले के गावों में नल के माध्यम से शुद्ध पानी मिलेगा। आगर-मालवा प्रदेश का पहला जिला बनेगा, जहां सभी गांवों के नागरिकों को नल के माध्यम से शुद्ध जल प्रदाय होगा।
  प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा ग्राम पंचायत स्तर पर नवीन गौ-शालाओं का निर्माण करवाया जा रहा है। जिससे गायों को उचित स्थान मिलेगा और उनकी अच्छे से देखरेख हो सकेगी। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले वासियों की आस्था से जुड़े बाबा बैजनाथ महादेव मंदिर में विकास कार्याें हेतु मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ द्वारा 5 करोड़ रुपए की राशि देने की  घोषणा दो मार्च को जिले में प्रवास के दौरान बाबा बैजनाथ के दर्शन कर की जाएगी। मुख्यमंत्रीजी अपने प्रवास के दौरान किसानों को सम्बोधित भी करेंगे। कार्यक्रम के प्रारंभ में कलेक्टर द्वारा रूपरेखा रखी गई। पूर्व मंडी अध्यक्ष श्री यादव, एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष श्री वानखेड़े के द्वारा किसाान सम्मेलन को सम्बोधित किया गया। 
  किसान सम्मेलन में सीईओ जिला पंचायत अंजली जोसेफ, एसडीएम महेन्द्र सिंह कवचे सहित अन्य अधिकारी एवं आगर तहसील के बड़ी संख्या में कृषकगण मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालक एमपी एग्रो जिला प्रबंधक ओपी विजयवर्गीय ने किया तथा आभार प्रदर्शन उप संचालक कृषि आरपी कनेरिया द्वारा किया गया।