शिव नवरात्रि: बाबा महाकाल ने मनमहेश  स्वरूप में भक्तों को दर्शन दिये

शिव नवरात्रि के छठे दिन सायं पूजन के पश्चात बाबा महाकाल ने श्री मनमहेश  स्वरूप में भक्तों को दर्शन दिये। इसके पूर्व प्रातः शासकीय पुजारी  घनश्याम शर्मा के आचार्यत्व में 11 ब्रा‍हम्‍णों द्वारा श्री महाकालेश्वर भगवान का अभिषेक एकादश-एकादशनी रूद्रपाठ से किया गया ।


सायं पूजन के पश्चात बाबा श्री महाकाल को नवीन वस्त्र धारण करवाये गये। इसके अतिरिक्त मेखला, दुपट्टा, मुकुट, छत्र, मुण्ड माला एवं फलों की माला आदि धारण कराई गई। शिवनवरात्रि के सातवे दिन, बुधवार 19 फरवरी को भगवान श्री महाकालेश्‍वर श्री उमा महेश स्वरूप में, गुरूवार 20 फरवरी को शिव-ताण्‍डव के रूप में श्रद्धालुओं को दर्शन देंगे। शुक्रवार 21 फरवरी को महाशिवरात्रि पर्व मनाया जावेगा। इस दिन भगवान श्री महाकालेश्‍वर का सतत जलधारा से अभिषेक होगा। दोपहर 12 बजे गर्भगृह में उज्‍जैन तहसील की ओर से पूजा की जावेगी व सायं 04 बजे होलकर एवं सिंधिया स्‍टेट की ओर से पूजन होगा। रात्रि में 11 बजे से गर्भगृह में भगवान श्री महाकाल का महा‍अभिषेक किया जावेगा। उसके पश्‍चात भगवान को पुष्‍प मुकुट धारण करवाया जावेगा। अगले दिन 22 फरवरी को पहर में 12 बजे भस्‍मार्ती होगी। जों वर्ष में एक बार ही दोपहर में होती है।


Popular posts from this blog

आगर से भाजपा प्रत्याशी मधु गेहलोत 13002 मतों से व सुसनेर से कांग्रेस प्रत्याशी भैरूसिंह बापू 12645 मतों से जीते

ग्राम झालरा में गिरी आकाशीय बिजली:एक की मौत:एक घायल:नाना बाजार में मंदिर के शिखर का कलश गिरा

तवा भी बिगाड़ सकता है घर का वास्तु, जानिए रसोई में तवे का महत्व