वर्षो बाद हनुमान जी छोड़ा चोला:झंडे की शुरुवात यही से हुई थी

आगर मालवा-श्री बाड़ी वाले हनुमान जी ने गत रात्रि को चोला उतार दिया।मंगलवार को सुबह इस बात की जानकारी श्रद्धालुओ को लगी। शंकर टेकरी के पास चार चरस की बावड़ी के नजदीक यह प्राचीन हनुमान मंदिर स्थित है।यहा से जुड़े भक्त प्रेम नारायण परिहार,सुरेश जाधव ने बताया कि बाड़ी वाले हनुमानजी का मंदिर काफी प्राचीन है।यह तो सही पता नही की कितने वर्षों के बाद बाबा ने चोला उतारा है मगर लंबा समय बीत चुका है।श्री जाधव ने बताया कि राममालीपुरा के झंडे की शुरुवात यही से हुई थी।सन 1983-84 में कई मंदिरों के झंडे इस मंदिर पर एकत्रित हुवे थे और यही से प्रति मंगलवार को झंडा निकालने की शुरुवात हुई।