खरगोन के इस किसान के लिए ग्रामोफ़ोन का समृद्धि किट बन गया वरदान

 भारतीय किसान खेतों में खूब मेहनत करते हैं, पर ज्यादातर किसान इसलिए अपनी मेहनत का अच्छा फल नहीं प्राप्त कर पाते क्योंकि वे अपनी जानकारी के अनुसार पारंपरिक कृषि पर जोर देते हैं। जबकि आज के जमाने में कृषि क्षेत्र में कई बड़े अनुसंधान हुए हैं जिसके परिणाम स्वरूप कई नए कृषि उत्पादों की मदद से कृषि आधुनिक होने के साथ साथ लाभकारी भी हो गई है। इंदौर की एग्रीटेक कंपनी ग्रामोफ़ोन भी किसानों को आधुनिक और स्मार्ट खेती की तरफ आगे बढ़ाने के लिए काम कर रही है। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के खेड़ीखानपुरा गांव के निवासी विकास पाटीदार ने ग्रामोफ़ोन की सानिध्य में अपनी पारंपरिक कृषि को आधुनिक बनाया जिसका लाभ अब उन्हें देखने को मिल रहा है। 



ग्रामोफ़ोन की सलाह पर ही विकास ने अपनी मिर्च की फसल में मिर्च समृद्धि किट का उपयोग किया था। समृद्धि किट की वजह से मिर्च की फसल में अच्छी बढ़वार हुई और उपज भी अच्छा मिल गया। विकास जी बताते हैं की पहले मिर्च की फसल में पौधों के सूख जाने की समस्या आती थी पर इस बार सभी पौधे हरे रहे और सूखने की समस्या बिलकुल नहीं आई। डेढ़ एकड़ के खेत में विकास जी को मिर्च की उपज से 7-8 लाख की आमदनी हुई और समृद्धि किट के उपयोग की वजह से कृषि खर्च भी बहुत कम रहा।

ग़ौरतलब है की ग्रामोफ़ोन द्वारा अलग अलग फसलों के लिए तैयार किये गए समृद्धि किट का इस्तेमाल करने से खेतों की उर्वरा शक्ति बढ़ जाती है और फसल को अन्य किसी बाहरी पोषक तत्व की ज्यादा जरुरत नहीं पड़ती है इसीलिए विकास की फसल भी स्वस्थ रही और अच्छी उपज प्राप्त हुई। विकास अपने अन्य किसान मित्रों को भी मिर्च समृद्धि किट इस्तेमाल करने का संदेश देते हैं। साथ ही वे कहते हैं की ग्रामोफ़ोन सच में किसानों का सच्चा साथी है जो हमेशा किसानों के साथ खड़ा नजर आता है। बता दें की ग्रामोफ़ोन मिर्च, कपास, सोयाबीन, मक्का समेत अन्य कई फ़सलों के लिए भी समृद्धि किट उपलब्ध करवाता है और इन सभी किट के बेहतर परिणाम देखने को मिल रहे हैं। ये किट आपकी वर्तमान फसल के लिए तो अच्छे होते ही हैं साथ ही साथ इनके कारण खेत की मिट्टी और ज्यादा उपजाऊ हो जाती है।



अधिक जानकारी के लिए विजिट करें: 

https://play.google.com/store/apps/details?id=agstack.gramophone   

https://bit.ly/3f7ginx

Popular posts
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image