खरगोन के इस किसान के लिए ग्रामोफ़ोन का समृद्धि किट बन गया वरदान

 भारतीय किसान खेतों में खूब मेहनत करते हैं, पर ज्यादातर किसान इसलिए अपनी मेहनत का अच्छा फल नहीं प्राप्त कर पाते क्योंकि वे अपनी जानकारी के अनुसार पारंपरिक कृषि पर जोर देते हैं। जबकि आज के जमाने में कृषि क्षेत्र में कई बड़े अनुसंधान हुए हैं जिसके परिणाम स्वरूप कई नए कृषि उत्पादों की मदद से कृषि आधुनिक होने के साथ साथ लाभकारी भी हो गई है। इंदौर की एग्रीटेक कंपनी ग्रामोफ़ोन भी किसानों को आधुनिक और स्मार्ट खेती की तरफ आगे बढ़ाने के लिए काम कर रही है। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के खेड़ीखानपुरा गांव के निवासी विकास पाटीदार ने ग्रामोफ़ोन की सानिध्य में अपनी पारंपरिक कृषि को आधुनिक बनाया जिसका लाभ अब उन्हें देखने को मिल रहा है। 



ग्रामोफ़ोन की सलाह पर ही विकास ने अपनी मिर्च की फसल में मिर्च समृद्धि किट का उपयोग किया था। समृद्धि किट की वजह से मिर्च की फसल में अच्छी बढ़वार हुई और उपज भी अच्छा मिल गया। विकास जी बताते हैं की पहले मिर्च की फसल में पौधों के सूख जाने की समस्या आती थी पर इस बार सभी पौधे हरे रहे और सूखने की समस्या बिलकुल नहीं आई। डेढ़ एकड़ के खेत में विकास जी को मिर्च की उपज से 7-8 लाख की आमदनी हुई और समृद्धि किट के उपयोग की वजह से कृषि खर्च भी बहुत कम रहा।

ग़ौरतलब है की ग्रामोफ़ोन द्वारा अलग अलग फसलों के लिए तैयार किये गए समृद्धि किट का इस्तेमाल करने से खेतों की उर्वरा शक्ति बढ़ जाती है और फसल को अन्य किसी बाहरी पोषक तत्व की ज्यादा जरुरत नहीं पड़ती है इसीलिए विकास की फसल भी स्वस्थ रही और अच्छी उपज प्राप्त हुई। विकास अपने अन्य किसान मित्रों को भी मिर्च समृद्धि किट इस्तेमाल करने का संदेश देते हैं। साथ ही वे कहते हैं की ग्रामोफ़ोन सच में किसानों का सच्चा साथी है जो हमेशा किसानों के साथ खड़ा नजर आता है। बता दें की ग्रामोफ़ोन मिर्च, कपास, सोयाबीन, मक्का समेत अन्य कई फ़सलों के लिए भी समृद्धि किट उपलब्ध करवाता है और इन सभी किट के बेहतर परिणाम देखने को मिल रहे हैं। ये किट आपकी वर्तमान फसल के लिए तो अच्छे होते ही हैं साथ ही साथ इनके कारण खेत की मिट्टी और ज्यादा उपजाऊ हो जाती है।



अधिक जानकारी के लिए विजिट करें: 

https://play.google.com/store/apps/details?id=agstack.gramophone   

https://bit.ly/3f7ginx