कुंभ राशि का वार्षिक राशिफल वर्ष 2020

 


उज्जैन के पंडित दयानंद शास्त्री के अनुसार



कुंभ राशि का स्वामी शनि है। राशिचक्र में इसे ग्यारहवां स्थान प्राप्त है। इस राशि वालों का सबसे बड़ा गुण उनकी प्रगतिशीलता है। वहीं उनकी सबसे बड़ी कमजोरी विचार एवं व्यवहार में दोहरापन होता है। इस राशि के जातक अपने उद्देश्य के प्रति पूर्ण ईमानदार एवं प्रतिबद्ध होते हैं। ये परिश्रम करके अपना जीवनयापन करते हैं। कभी-कभी स्वभाव में उग्रता भी पाई जाती है। किंतु आंतरिक रूप से शांत एवं नम्र होते हैं। दूसरों की सहायता करते हैं। जवाबदारी हो या संघर्ष जीवन में ये इन बातों से घबराते नहीं है। प्रयत्नशील बने रहते हैं। जीवन में कुछ न कुछ कष्ट बना रहता है। पढ़ने का शौक भी रहता है तथा किसी ज्ञान प्राप्ति हेतु प्रयासरत रहते हैं। कुछ मामलों में कभी कभी बदलापन भी रहता है।
वर्ष के शुरुआती माह में ही 24 जनवरी को शनि आपकी राशि से 12वें स्थान में आ जाएंगे। जिससे आप पर शनि की साढ़ेसाती शुरु हो जाएगी तथा इस वर्ष शनि आपकी राशि से 12वें स्थान पर विराजमान हो जाएंगें। जो कि आपके धन खर्चों में बढ़ोतरी होने के संकेत दे रहे हैं। शारीरिक कष्ट भी बढ़ सकते हैं स्वास्थ्य का ध्यान रखें, कमजोरी महसूस हो सकती है। सिरदर्द, गला दर्द आदि से परेशान रह सकते हैं।
23 सितंबर को राहू का परिवर्तन आपकी राशि से चौथे स्थान में होने जा रहा है जो कि माता व आपके घर, वाहन, सुख का स्थान माना गया है। इस घर में राहू का उच्च राशि में जाना घर को विस्तार देने के योग बना रहा है। पुनर्निमाण का कार्य पेंडिंग है तो इस समय यह पूर्ण हो सकता है। नये वाहन की प्राप्ति के योग भी बनेंगें। इस वर्ष कार्यक्षेत्र में भी बदलाव के योग बन सकते हैं। इसके साथ ही केतु भी लाभ स्थान से कर्म के स्थान पर विराजमान हो रहे हैं जो कि मंगल की राशि वृश्चिक राशि के हैं। इसका फल भी मंगल की ही तरह आपको मिलेगा। काम के मामले में तरक्की के योग बनेंगें, काफी समय से यदि कोई साक्षात्कार, या परिणाम मिलना बाकि है तो उसका सकारात्मक परिणाम आपको मिल सकता है। शारीरिक तौर पर भी आप स्वयं में एक नई ऊर्जा महसूस करेंगें। 29 सितंबर को शनि मार्गी हो जाएंगें जिसके पश्चात समस्याएं कम होती हुई दिखाई पड़ेंगी। इसके साथ ही आप अपने खर्चों पर भी नियंत्रण कर सकेंगें और इस समय आपके शत्रु भी कमजोर होंगे। 2020 में 20 नवंबर को गुरु फिर से मकर राशि में आ जाएंगे। इसके पश्चात शत्रुओं पर विजय प्राप्ति होगी। नया घर मिल सकता है। अच्छे मित्र बनेंगें। शिक्षा संबंधी लाभ भी आपको प्राप्त होगा।


आर्थिक जीवन:


कुंभ राशि के जातकों के लिए वर्ष 2020 शुभ संकेत कर रहा है। इस वर्ष आपकी आमदनी में वृद्धि होगी। एक से अधिक स्रोतों से धन आएगा। जून से नवंबर तक आपको आर्थिक फैसले लेने में कोई दिक्कत नहीं होगी। आर्थिक रूप से आपको मनोवांछित फल प्राप्त हो सकते हैं।


करियर-व्यापार:


इस वर्ष आपको अपने कार्यस्थल पर निराशा हाथ लग सकती है। अपने कार्य को लेकर आपके मन में हीन भावना आ सकती है। ऐसी स्थिति में खुद को संभालें और धैर्य न खोयें। यदि आप इस साल पार्टनरशिप में कोई कारोबार शुरु करते हैं तो उसमें आपको सफलता मिल सकती है। इसके लिए अप्रैल-जून का महीना अच्छा है।


पारिवारिक जीवन:


साल की शुरुआत में मित्रों के साथ मिलना-जुलना होगा। उनके साथ कहीं घूमने भी जा सकते हैं। रिश्तेदारों से मिलना-जुलना होगा। साल की शुरुआत में परिजनों के साथ किसी रिश्तेदार की शादी में जाना हो सकता है। मार्च में माता जी की सेहत का ध्यान रखें। परिजनों के साथ मेलजोल रखें। साल के मध्य में समाज के प्रतिष्ठित लोगों से मुलाकात होगी। जिससे आपके मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। माता-पिता की सेवा करने से मन प्रसन्न रहेगा। साल के अंत में परिवार में संतुलन बनाने की आवश्यकता होगी।


स्वास्थ्य जीवन:


इस वर्ष आपको अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है। क्योंकि इस साल आपको सेहत से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। खासकर फरवरी से मई के बीच आप बाहर के खाने से परहेज करें। दिनचर्या में सुधार करने से स्वास्थ्य लाभ मिलेगा।


उपाय:


शनिदेव के 108 मंत्रों का जाप करें और पीपल के पेड़ के नीचे पानी चढ़ाएं।