इंसान के संस्कार ही उसका श्रंगार है:पंडित नागर



सुसनेर। सुसनेर-जीरापुर मार्ग पर ग्राम मोडी में पंडित कमल किशोर नागर की सात दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। प्रतिदिन कथा में हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे है। स्थाई रूप से कई श्रद्धालु मोडी में ही रूके हुएं है उनके द्वारा प्रतिदिन कथा के बाद भजन-कीर्तन किए जाकर राम-नाम का सुमिरन व ओम नमो भगवते वासुदेवाय का जाप किया जा रहा है। साथ ही आयोजक समिति के द्वारा कथा स्थल पर ही प्रतिदिन 3 हजार लोगो को रोजाना चाय-नाश्ता व भोजन प्रसादी भी ग्रहण कराई जा रही है। कथा में तीसरे दिन पंडित नागर ने श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुएं कहां कि हमेशा याद रखना कि हमारे पास पैसा नहीं, परमात्मा ही रहेगा, इसलिए जीवन में कमाया धन अच्छा है तो उसका अच्छे कार्यो में सदुपयोग करो। उन्होने कहां कि हमें केवल बैंक की पासबुक नहीं, गीता ही जीवन से तारेगी। जब पैसा खराब होगा तो वह बैंको के ताले में ही पडा रहेगा। जिसका धन पुण्य कार्य में लगता है वह धन्य हो जाता है। जब हम तीर्थ जाते हैं तो पैसे लेकर जाते हैं और उधर से वापस आते है तो पुण्य लेकर आते हैं। पैसे खर्च हो जाते हैं परंतु पुण्य प्राप्त हो जाता है और हमारे साथ पुण्य जाता है। पैसा नहीं इसलिए पुण्य कमाना चाहिए।
कथा में तीसरे दिन पंडित नागर ने श्रद्धालुओ को सम्बोधित करते हुएं कहां कि जिस प्रकार स्त्री की मांग में लगा सिंदूर ,पांव में बिछिया हाथ में कंगन आदि सिद्ध करते हैं कि उसका कोई स्वामी है। ठीक उसी प्रकार इंसान के तिलक, जनेऊ और चोटी आदि बताते हैं कि वह संस्कारी है और उसका स्वामी ईश्वर है। इंसान के संस्कार ही उसका श्रृंगार है।


Popular posts
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
बाबा बैजनाथ महादेव का आज का संध्या श्रृंगार दर्शन
Image