जब सड़क किनारे लगा पत्थर आप को मंजिल तक पहुंचा सकता है तो मंदिर में विराजित मूर्ति क्यों नहीं- प. नागर



सुसनेर। जब आपको कहीं भी जाना रहता है तो आप सड़क किनारे किलोमीटर के पत्थर देखकर मंजिल तक पहुंच जाते हैं। ठीक उसी प्रकार मंदिर में विराजमान भगवान की मूर्ति भी आपको आपकी मंजिल तक पहुंचा सकती हैं। यह बात मोडी में चल रही सात दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा के दूसरे दिन रविवार को पंडित कमलकिशोर नागर ने श्रद्धाुलओं को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होने व्यासपीठ से कहां कि गुरु शंकर का रूप होता है जब आपको कोई गुरु ना मिले तो भगवान शिव शंकर को गुरु मान लो, महादेव निराकार है। जिस प्रकार शेरनी का दूध केवल उसके बच्चे एवं सोने के पात्र में ही हजम होता है। उसी प्रकार भगवत कथा का ज्ञान भी उचित स्थान पर लगता है हर जगह नहीं। कोई भी मनुष्य जन्म से भगवत प्राप्त नहीं होता है भगवत प्राप्त करने के लिए कठीन सुमिरन करना आवश्यक है ना कि दिखावा। आपको कुछ ऐसी भक्ति करनी चाहिए कि ईश्वर की नजर आप पर पड़े और आप तर जाए। कथा दूसरे दिन सुसनेर, आगर, नलखेड़ा, सोयत, माचलपुर, छापीहेड़ा, खुजनेर तथा राजगढ़ व क्षेत्र के विभिन्न ग्रामों से 10 हजार से भी अधिक श्रद्धालुओं ट्रैक्टर बसे व निजी साधनों से कथा श्रवण करने पहुंचे। तो 2 लाख वर्ग फीट में लगाया गया पंडाल भी छोटा पड गया। इसके चलते हजारों की संख्या में श्रोतागण पंडाल के बाहर खुले में बेठकर ही कथा सुनते रहे।


कथा में बताया दीक्षा का महत्व


पंडित नागर ने कथा में श्रद्धालुओ को सम्बोधित करते हुएं कहां कि दीक्षा चार प्रकार की होती है नाम से ,नजर से ,स्पर्श से, दया से, अगर इनमें से आपके ऊपर नजर ईश्वर की नजर भी पड़ जाऐ तो आपका जीवन धन्य हो जाए। 


रस गंगा पर झूमे सत्संगी
 श्री नागर ने कथा में उठ जाग मुसाफिर क्यो सोया...मंदिर जाति मीरा को सांवरिया मिल गया रे गिरधर जादू कर गया रे...  राम नाम रस पितो रे मन तु राम नाम... आदि भजनों को गाये जिन पर श्रोतागण झुमने लगे।


कलेक्टर पहंचे कथा स्थल


रविवार को कथा सुनने कलेक्टर संजय कुमार, एसडीएम मनीष जैन कथा स्थल पर पहुंचे। जिनका स्वागत आयोजन समिति के सिसोदिया परिवार द्वारा  साफा बंधवाकर किया गया। कलेक्टर ने कथा विश्राम पर श्रीमद् भागवत की आरती की।


हुवा निःशुल्क उपचार 
 कथा स्थल पर झालावाड़ के सरदार पटेल मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल के डॉक्टर बी के पाटीदार एवं डॉक्टर विमल अग्रवाल के द्वारा निशुल्क उपचार किया जा रहा है।


रोज निकल रही है प्रभातफेरी
श्रीमद् भागवत कथा मोड़ी में प्रदेशभर से सैकड़ों साधकों द्वारा प्रतिदिन सुबह 5:00 बजे गांव मोड़ी में प्रभात फेरी निकाली जा रही है। साधकों द्वारा लोगों को प्रातः काल जल्दी उठने के लाभ वह प्रात:काल उठने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।


Popular posts
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
बाबा बैजनाथ महादेव का आज का संध्या श्रृंगार दर्शन
Image