कविता:जनवरी 20 आई है

 


उन्नीस बिदा बीस अगुवाई।
परीक्षा आई करो पढाई।।1
चना धनिया गेहूं राई।
अलसी,मैथी रबी सुहाई।।2
नाचोगाओ खुशी मनाओ।
नवाचार के दीप जलाओ।।3
जनवरी बीस आई है।
ठंडा मौसम लाई है।।4
दादा दादी नाना नानी।
ओढें कंबल कहें कहानी।।5
गरम जलेबी दूध मलाई।
खेलो कूदो छोड़ मिठाई।।6
गाजर पालक गोभी खाओ।
योगा करके स्वाथ्य बनाओ।।7
काक चेष्टा बको ध्याई।
सादा भोजन छोड़ रजाई।।8
प्रात:उठके करो पढाई।
आलस छोड़ परीक्षा आई।।9
नया साल सुख संपद लावे।
विद्या बुद्धि कीरति पावे।।10


   नववर्ष 2020 मंगलमय हो
डॉ दशरथ मसानिया


Popular posts
छिंदवाड़ा की सरज़मीं पर हुआ अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन नगर निगम छिन्दवाड़ा द्वारा नगर गौरव दिवस पर हास्य कवि संदीप शर्मा के संचालन में जाने-माने कवियों ने छिंदवाड़ा में छेड़ी कविताओं की तान
Image
बच्चों की बीमारी के लिये उज्जैन के निजी शिशु रोग विशेषज्ञों से दूरभाष पर ले सलाह
संगम पर विराजे बाबा मंगलनाथ के दरबार मे 41 वर्षो से गूंज रही है रामायण की चौपाईयां
Image
बारिश के चलते कल 17 अगस्त को जिले के स्कूलों का रहेगा अवकाश
Image
शैक्षणिक संस्थाओं में विद्यार्थियों के लिए कल 23 अगस्त का अवकाश घोषित ‌
Image