1378 बच्चों ने दी नवोदय की चयन परीक्षा, 213 रहे अनुपस्थित


सुसनेर। सुसनेर में संचालित जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश के लिए छंठवीं कक्षा के बच्चो की चयन परीक्षा का आयोजन किया गया। आगर जिले के 4 ब्लॉकों के 6 केंद्रो पर दो पालियों में यह परीक्षा आयोजित की गई। जिसमें कूल 1591 बच्चों में से 1378 बच्चो ने परीक्षा दी और 213 बच्चे अनपस्थित रहे। नवोदय विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डी पी रजक ने बताया कि शनिवार को आयोजित की गई परीक्षा में आगर जिलें में सुसनेर, नलखेडा, बडौद और आगर के चारो ही विकासखंडो में नगरीय केन्द्रो पर 6 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे। जिनमें हिन्दी- अंग्रेजी माध्यम के कूल 1591 बच्चो के प्रवेश पत्र वितरित किए गए थे। उनमें से 1378 बच्चो परीक्षा में सम्मिलित हुएं है जबकि 213 अनुपस्थित रहे। सुबह साढे 11 से डेढ बजे तक हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम के बच्चो ने हिन्दी सामान्य और उसके बाद दूसरी पाली में तर्कशक्ति के प्रश्नो काे हल किया। आगर के उत्कृष्ट स्कूल में 300 में से 254 बच्चो ने परीक्षा दी व 46 अनुपस्थित रहे व आगर के कन्या स्कूल में 204 में से 175 बच्चो ने परीक्षा दी व 29 अनुपस्थित रहे। बडौद के उत्कृष्ट स्कूल में 257 में से 225 बच्चे परीक्षा में सम्मिलित हुएं व 32 अनुपस्थित। नलखेडा के उत्कृष्ट स्कूल में 348 में से 311 उपस्थित रहे व 37 अनुपस्थित। सुसनेर के उत्कृष्ट स्कूल में 250 में से 216 ने परीक्षा दी व 34 अनुपस्थित रहे वही कन्या स्कूल में 232 में से 197 ने परीक्षा दी व 35 अनुपस्थित रहे। पूरे जिलें में बनाए गए इन परीक्षा केन्द्रो का विकासखंड शिक्षा अधिकारीयो ने भी निरीक्षण किया। सुसनेर में बीईओ बालचंद बागरी ने कन्या हायर सेकण्डरी स्कूल और शासकीय उत्कृष्ट स्कूल का निरीक्षण किया। प्रत्येक कक्ष में दो-दो शिक्षको की ड्यूटी लगाई गई थी।


Popular posts
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image