जिला स्तरीय तकनीकी समूह की बैठक में हुई उन्नत खेती पर चर्चा


आगर-मालवा-जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाजापुर के कार्यक्षेत्र आगर जिले के जिला स्तरीय तकनीकी समूह की बैठक शुक्रवार को कलेक्टर संजय कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में जिला कांग्रेस अध्यक्ष  बाबूलाल यादव, जिला पंचायत उपाध्यक्ष देवकरण गुर्जर, सहकारी बैंक के प्रशासक  वीरेन्द्र सिंह गोहिल, नाबार्ड के हेमन्त लेम्बे, उप संचालक कृषि  आरपी कनेरिया, सहकारी बैंक प्रबंधक के.के.नागर, एनके गुप्ता, नोडल अधिकारी सहकारिता बैंक द्वय राजेन्द्र शर्मा, सुरेश शर्मा प्रगतिशील किसान  रामनारायण तेजरा, राधेश्याम परिहार, महेन्द्र सिंह, दूलेसिंह, एवं अन्य कृषक एवं बैंक अधिकारी मौजूद रहें। 
बैठक में आगर-मालवा जिले में उगाई जाने वाली खरीफ, रबी की मुख्य फसलों का प्रति हेक्टर के लिए ऋणमान निर्धारण किया गया। साथ ही इस वर्ष से गाय, भैंस, बकरी पालन, मुर्गी पालन-बायलर, मुर्गी पालन लेयर तथा मत्स्य पालन में ग्रामीण तालाबों में मछली तालाब, तलाब में मत्स्य संवर्धन (फिश फिड सहित) के लिए कार्यशील पूंजी हेतु साख सीमा सर्व सम्मति से स्वीकृत की गई है। 
बैठक को सम्बोधित करते हुए पूर्व मंडी अध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि संबंधित विभाग किसानों से प्राप्त सुझाव को अमल में लाकर किसान हित में फैसले लें। कृषि विभाग जिले के किसानों को खेती की नई-नई तकनीकी अपनाने हेतु प्रेरित कर, उन्हें प्रशिक्षित करें। कृषकों को आधुनिक खेती करने हेतु भरपूर सहयोग प्रदान करें। उन्होंने उन्नत कृषक राधेश्याम परिहार को उन्नत खेती के लिए बधाई  दी। 
सहकारिता बैंक प्रशासक श्री गोहिल ने कहा कि बैंक एंवं संस्थाएं किसानों की आवश्यकता के अनुरूप कार्य करें। शासन स्तर से जो दायित्व सौंपे गए है, उनका निर्वहन करते हुए बैंक अधिकारी-कर्मचारी किसानबन्धुओ का सहयोग करते हुए उनकी समस्याओं का त्वरित निराकरण करते हुए एक-दूसरे के मध्य मधुर संबंध बनाए रखें। उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में गेहूं उपार्जन एवं परिवहन हेतु सभी आवश्यक कार्यवाहियां पूर्ण कर लेेवें।


Popular posts
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image