खाटू श्याम की निशान यात्रा में झूमे श्रद्धालु, गुंजा “हारे का सहारा-बाबा श्याम हमारा"



सुसनेर। हवा में लहराती बाबा की ध्वजा और फिजा में गुंजतीे हारे के सहारे की जय-जयकार, फूलो से होती वर्षा और इत्र की फुहार के बीच, बैण्ड पर गाते बाबा के भजनो पर नाचती गाती श्यामप्रेमियों की टोली। यह नजारे दिखाई दे रहे थे सोमवार को श्याम मित्र मंडल सुसनेर के तत्वाधान में खाटू श्याम बाबा की निकाली गई निशान यात्रा में। यहां अवसर था 25 वर्षो बाद सुसनेर में आयोजित होनी वाली खाटू श्याम बाबा की भजन संध्या का। भजन संध्या से पूर्व दोपहर 1 बजे नगर के श्री मनकामनेश्वर महादेव मंदिर से बाबा के निशानों की पूजन के बाद बैण्ड बाजे और ढोल ढमाके के साथ निशान यात्रा प्रारंभ की गई। जो नगर के डाक बंगला रोड सिंचाई विभाग, सांई तिराहा, पांच पुलिया, पुराना बस स्टेण्ड, हाथी दरवाजा, सब्जी मंडी, नरबदिया नाला, इतवारीया बाजार, सराफा बाजार, शुक्रवारीया बाजार, स्टेट बैंक चोराहे से होते हुएं श्री राम मंदिर धर्मशाला प्रांगण पहुंची जहां पर यात्रा का समापन किया गया। पूरी यात्रा के दौरान श्यामप्रेमियों के मुख से हारे के सहारा-बाबा श्याम हमारा, लखदातार की जय, श्याम प्यारे की जय के जयकारे गुंजते रहे। यात्रा में 251 निशान हाथो में लिए श्यामप्रेमी, महिलाएं व युवतीयां शामिल थी। यात्रा का श्रीमनकामनेश्वर सेवा मंडल समिति, आस्था अकेडमी स्कूल व सरस्वती शिशु मंदिर के बच्चों द्वारा, भाजपा मंडल सुसनेर व अन्य परिवारों के द्वार अपने घर के बाहर निशान यात्रा का पुष्पवर्षा से स्वागत किया गया। इस अवसर पर बडी संख्या में श्रद्धालुजन मौजूद थे।