तिरूपति बालाजी कंस्ट्रक्शन  स्टोन क्रेशर मशीन बंद करने हेतु एसडीएम ने जारी किए प्रारंभिक आदेश 

आगर-मालवा- अनुविभागीय दण्डाधिकारी महेन्द्र सिंह कवचे ने तिरूपति बालाजी कंस्ट्रक्शन के प्रो.चन्द्रशेखर वर्मा को प्रारंभिक आदेश  जारी कर कस्बा छावनी आगर की भूमि सर्वे क्रमांक 418 रकबा 4.80 हे. व 22 रकबा 2.00 हे. कुल किता 2 रकबा6.80 हैक्टर शासन द्वारा पत्थर उत्खनन हेतु लीज पर दी गई भूमि पर गिट्टी चूरी निर्माण हेतु स्थापित स्टोन क्रेशर मशीन को चलाना बंद कर देने या उक्त स्थान से हटाये जाने के लिए प्रारंभिक आदेश जारी किया गया है।  


 


जारी आदेशानुसार अनावेदक द्वारा पत्थर उत्खनन हेतु लीज पर दी गई भूमि पर स्टोन क्रेशर मशीन स्थापित कर गिट्टी चूरी का निर्माण किए जाने हेतु उत्खनन में विस्फोटक का उपयोग कर ब्लास्टिंग करते समय पत्थर उड़कर सड़क और आस-पास के किसानों की भूमि पर गिरते है, जिससे आसपास चरने वाले पशु एवं आम रहगीरों को चोंट लगने का भय रहता है तथा जन एवं पशु को हानि होती है। पत्थर उत्खनन व ब्लास्टिंग के कारण ही पूर्व में मोलाअली टेंकरी पर निर्मित भवन क्षतिग्रस्त हुआ जो वर्षाकाल में ढह गया, परिणाम स्वरूप तीन लोगों की मृृत्यु हो गई थी। साथ ही विस्फोट से निकट स्थित तुलजा सरोवर तालाब फूट गया तथा किसानों की फसले नष्ट हो गई थी व पशुधन की हानि हुई थी। गिट्टी, चूरी एवं रेती के निर्माण से भारी मात्र में धुल उडती है और पर्यावरण दूषित होकर वायु प्रदूषण हो रहा है। पत्थर की उड़ने वाली धूल से आमजनता व पास की सड़क के राहगीरों व पशुओं का स्वास्थ्य खराब हो रहा है, आसपास के कृृषकों की फसले खराब होकर पर्यावरण दूषित होने के कारण लोक न्यूसेस उत्पन्न हो रहा है। जो लोक स्वास्थ्य या सुख के लिए, विधि विरूद्ध है। अनुविभागीय दण्डाधिकारी ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 133 के तहत अनावेदक को प्रारंभिक आदेश जारी कर उक्त व्यापार एवं अजीविका को आगामी आदेश से पूर्व चलाना बंद कर देने या उक्त स्थान से हटा देने के निर्देश दिए गए है।  साथ ही 5 फरवरी 2020 को प्रातः 11 बजे न्यायालय में स्वयं या वैध प्रतिनिधि के माध्यम से जवाब प्रस्तुत करने को कहा गया है। विधिवत सूचना उपरान्त अनुपस्थित रहने पर प्रकरण में एक पक्षीय कार्यवाही की जाएगी।


Popular posts
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image