आगर में शिव महापुराण कथा के साथ शुरू होगा शिवरात्रि महोत्सव

आगर मालवा। महाशिवरात्रि पर्व की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। 16 फरवरी को शिव महापुराण के साथ ही महोत्सव की शुरुवात होगी।ग्राम निपानिया से विशाल कलश यात्रा निकाली जाएगी। महाशिवरात्रि के अवसर पर बाबा का आकर्षक श्रंगार कर सेहरा सजाया जाएगा। इस दौरान पूरा मंदिर परिसर फूलो से महक उठेगा।
बाबा बैजनाथ महादेव के दरबार मे महाशिवरात्रि के 6 दिवस पूर्व ही धार्मिक आयोजन शुरू हो जायेगे।श्रीमद् भागवत कथा पाठ एवं श्री शिव महापुराण की शुरूआत सबसे पहले होगी। मंदिर प्रबंध समिति के सदस्य नवनीत पालीवाल व जय बाबा बैजनाथ जनकल्याण सेवा समिति के मुकेश पुरी ने जानकारी देते हुए बताया कि संस्कृत में बाबा बैजनाथ महादेव को भागवताचार्य कंवरलाल उपाध्याय द्वारा कथा सुनाई जाएगी। जिसकी पूर्णाहुति शिवरात्रि 21 फरवरी को की जाएगी। मंदिर की प्रसिद्धता के कारण इन दिनों दर्शनार्थियों की भीड़ भी बढऩे लगती है। दूर दराज के भक्त दर्शनार्थ मंदिर पहुंचते है। कई धार्मिक मान्यता और चमत्कार के कारण यह मंदिर जन-जन की आस्था का केन्द्र बना हुआ है। श्री पुरी ने बताया कि  बैजनाथ धाम में तृतिय वर्ष भगवान शिव के गुणानुवाद  हेतु शिव महापुराण का भव्य आयोजन किया जा रहा है। जिसमें कश्यपपीठ पीठाधीश्वर आचार्य स्वामी  राज राजेश्वर गिरि महाराज गुजरात वाले कथामृत का पान कराएंगें।



  
17 शुरू होगा रामचरित्रमानस यज्ञ
मुख्य पुरोहित पंडित सुरेंद्र शास्त्री ने बताया की प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 17 फरवरी से मंदिर परिसर में रामचरित्रमानस यज्ञ  प्रारम्भ हो जाएगा।इस बार नवीन यज्ञशाला में यह कार्य संपादित होगा। पूर्णाहुति शुभ मुहर्त में माहशिवरात्रि को की जाएगी। यज्ञ का प्रारंभ यज्ञाचार्य पंडित प्रेमनारायण व्यास(चौमा वाले) के निर्देशन में सुबह पंडितों द्वारा विधीविधान पूर्वक किया जाएगा। जो सुबह 8 से 12 व दोपहर 2 से 5 बजे तक जारी रहेगा। इस दिन से  पंडितों द्वारा  सुबह और रात में बाबा बैजनाथ का रूद्धाभिषेक भी किया जाएगा। मंदिर परिसर में 1974 से रामायण परायण की गतिविधी जारी है। जिसकी वार्षिक पूर्णाहुति के निमित्त महायज्ञ पिछले 45 वर्षो से यहां होता आ रहा है। अखंड भजन किर्तन के आयोजन भी यहां शुरू हो जाएगें। मंदिर परिसर में स्थित गणपति, वरहा, हनुमान, मंगलनाथ एवं भैरवनाथ मंदिर में इस दिन से पंडितों द्वारा जाप भी शुरू किया जाएगा।



फूलों से सजेगा बाबा का सेहरा 
सात दिवसीय धार्मिक महोत्सव के तहत् शिवरात्रि पर पुरे मंदिर परिसर को फूलों से आकर्षक सजावट के  साथ जगमगाती रोशनी लगाई जाएगी। पुजारी भभूतपुरी ने बताया कि इस दिन बाबा बैजनाथ महादेव का दुल्हा सा श्रंगार कर सैहरा भी सजाया जाएगा। जिसकी तैयारी मंदिर प्रबंध समिति एवं भक्त मंडल द्वारा प्रारंभ कर दी गई है। शिवरात्रि पर यहां नगर सहित आसपास और दुर दराज से हजारों भक्त दर्शनार्थ पहुंचेंगे, आने वाले इन दर्शनार्थियों के लिए दर्शन को लेकर अलग व्यवस्था भी की है। अव्यवस्थाओं से बचने के लिए महिला पुरूषों की अलग अलग कतार बनाए जाने के साथ कतारबद्ध होकर ही दर्शन किए जाने जैसी व्यवस्था भी जा रही है। इस दिन फरियाली खिचड़ी का प्रसाद भक्तों को वितरित किया जाएगा।