जंगली जानवर से दहशत:वन विभाग ने ग्रामीणों से कहा सतर्क रहे

तनोडिया। समीपस्थ ग्राम सुठेली के जंगल में  जंगली जानवर देखे जाने की खबर से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है । पिछले दिनों जंगल में  सिंचाई करने के दौरान रात्रि में लोगों ने जंगली जानवर होने की सूचना दी थी।


 


सुठेलि के ग्रामीण राजेश और कालू राम ने  जंगली जानवर  देखे जाने  की बात कही। खबर मिलते ही लोगों ने पिछले एक सप्ताह से खेतों पर सोना बंद कर दिया। एक सप्ताह पूर्व भी जानवर की खबर होने की सूचना पर वन विभाग का अमला जंगल में पहुंचा था और पड़ताल की थी। पग मार्ग लकड़बग्घा  होने का इशारा कर रहे है।बुधवार को भी सूचना पर डिप्टी रेंजर अशोक देवड़ा के साथ वन विभाग के 4 कर्मचारियों की टीम सुठेलि के आसपास के जंगलों में पहुंची और ग्रामीणों द्वारा बताई हुई जगह पर सर्चिंग भी की,लेकिन कहीं कोई साक्ष्य नहीं मिला। ग्रामीण द्वारा जो पाद मार के बताए गए उसे भी वन विभाग लकड़बग्घे के होना बता रहा है। गौरतलब रहे कि सुठेली के जंगलों में 2015 में तेंदुआ पकड़ा गया था वही पिछले 2 सप्ताह से जानवर को देखे जाने की खबरों से लोग भयभीत है।पिछले 2 दिनों से ग्रामीणों द्वारा जानवरों को देखे जाने की खबर से भय का माहौल बना हुआ है। किसान राजेश व मदन लाल मालवीय ने बुधवार सुबह जानवर को देखे जाने के बाद वन कर्मियों को बताईऔर कहा कि कि पिछले एक सप्ताह से फसलों को नुकसान पहुंचाने वाली नील गायों का आवागमन भी बंद है। अन्य कई  ग्रामीणों ने जानवर की दहाड़ भी सुने जाने की बात कहकर रात में कुओं पर सोना बंद कर दिया है।शुक्रवार को भी टीम ने सर्च की मगर अभी तक किसी नतीजे पर नही पहुच पाये है।


इनका कहना है।
 ग्रामीणों की सूचना पर टीम ने मौके पर पहुंचकर तीन घंटे तक  जंगल में  सर्चिंग की है। पग मार्क लकड़बग्घे के लग रहे हैं।
अशोक देवड़ा 
डिप्टी रेंजर वन विभाग आगरा


Popular posts
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image