जय किसान फसल ऋण माफी योजना से किसानों को मिला फायदा, किसानों के चेहरो पर खुशी है 

सुसनेर-हमारी सरकार वादें पूरी करने वाली सरकार है, हमने 2 लाख तक के कर्जमाफ करने का वादा किया था। जिसे हम जय किसान फसल ऋण माफी योजना के जरीये पूरा भी कर रहे है। इस याेजना से किसानो को लाभ पहुंचा है, यही वजह है कि आज यहा बैठे किसानों के चेहरो पर खुशी दिखाई दे रही है। किसानों को जल्द ही बीमें की राशि मिल जाएगी। पूरे मध्यप्रदेश में सबसे अधिक मुआवजा राशि आगर जिलें में बटी है।


उक्त विचार शुक्रवार को स्थानीय कृषि उपज मण्डी में आयोजित जय किसान फसल ऋण माफी योजना के कार्यक्रम को सम्बोंधित करते हुएं नगरीय प्रशासन एवं आवास मंत्री व जिला प्रभारी मंत्री जयवर्धनसिंह ने कही। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुएं क्षेत्रिय विधायक राणा विक्रमसिंह ने कहां कि सुसनेर विधानसभा में 615 करोड की लागत से आगर जिलें के 480 गांवो में घर-घर तक पानी पहुंचेगा। साथ ही 2 मार्च को आगर में मुख्यमंत्री कमलनाथ मंच से 2 लाख तक की कर्जमाफी के प्रमाण पत्र बांटेंगे। विधानसभा में युवाओं को राेजगार देने के उद्देश्य से 3 हजार करोड के सोरऊर्जा प्लांट चोमा, पालडा व अन्य जगहो पर लगाए जाएंगे। उन्होने कहां कि 150 करोड रूपये की बीमा राशि किसानों के लिए स्वीकृत की गई है जो जल्द ही मिल जाएगी। सम्बोधन के बाद कुछ किसानों को 1 लाख रूपये तक की ऋण माफी के प्रमाण पत्र जिला प्रभारी मंत्री और विधायक के हाथो वितरित किये गए। कार्यक्रम में जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाजापुर/आगर वीरेन्द्रसिंह गोहिल व जिला कलेक्टर संजय कुमार, एसपी मनोजकुमार सिंह, जिला पंचायत सीईओ अजंली जौसेफ भी मौजूद थे। कार्यकम का संचालन ओपी विजयवर्गीय ने किया। कार्यक्रम के दौरान कृषि विभाग की योजनाओं के तहत हार्वेस्टर व टैक्टरो की चाबीयां किसानों को प्रभारी मंत्री के हाथों वितरित की गई।


प्रभारी मंत्री को परसुलियाकलां के ग्रामीणों ने सोपा ज्ञापन


ग्राम परसुलियाकलां में 19 फरवरी को ज्योति पाटीदार की संदिग्ध अवस्था में जली हुई लाश मिलने के मामले में मृतक के भाई  धीरज पाटीदार और परसुलियाकलां के ग्रामीणो ने मामले की जांच सुसनेर पुलिस के बजाय किसी अन्य एजेन्सी से कराए जाने या फिर एसआईटी का गठन करके जांच कराये जाने की मांग को लेकर एक ज्ञापन जिला प्रभारी मंत्री जयवर्धनसिंह को सोपा। ज्ञापन में ग्रामीणो ने सुसनेर पुलिस पर दबाव के चलते सही कारवाई नही करने तथा खानापूर्ति करते हुएं केवल एक आरोपी को धारा 306 और 354 में गिरफ्तार कर जेल भेजा है। पुलिस की यह कारवाई सही और निष्पक्ष नहीं है। इसलिए इस मामले की जांच सुसनेर पुलिस से लेकर किसी अन्य एजेन्सी से कराई जाए। 


आगर जिलें को रैल सेवा से जोडने की मांग को लेकर दिया ज्ञापन


आगर जिलें को रेल सेवा से जोडने की मांग को लेकर नगरवािसयों के द्वारा एक ज्ञापन प्रभारी मंत्री जयवर्धनसिंह को सोपा गया। ज्ञापन में नागरिको ने बताया कि उज्जैन से रामगजमंडी रेललाइन के लिए कई बार सर्वे हो चुके है। नागरिक इसके लिए आंदोलन भी कर रहे है। किन्तु कोई इस और ध्यान नहीं दे रहा है। ज्ञापन में इस रेलवे लाइन के लिए मध्यप्रदेश शासन से अनुशंसा करके केन्द्रीय रेल मंत्री और केंद्र सरकार को भेजे जाने का अनुरोध किया गया है। इस पर मंत्री ने उचित कारवाई का आश्वासन नगरवासियो को दिया है।