खबर का असर :अस्पताल पहुंचकर एसडीएम ने खुलाया महिला भर्ती वार्ड का ताला

सुसनेर। 13 फरवरी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में महिला भर्ती वार्ड में अटाला भरकर उस पर ताला लगा दिए जाने से अस्पताल में भर्ती होने वाली महिला मरीजों की फजीहत को लेकर जब शब्द संचार ने खबर प्रकाशित की तो सोमवार को एसडीएम मनीष जैन ने अस्पताल का निरीक्षण कर महिला भर्ती वार्ड का ताला खुलाया ।


बता दें कि महिला भर्ती वार्ड पर ताला लगा दिये जाने से स्थिति यह बन रही थी कि पुरुष वार्ड के अंदर ही महिला और पुरूष मरीजों को भर्ती करके उनका इलाज किया जा रहा था। पुरूष वार्ड के सारे पलंग फूल हो जाने के बाद मरीजों को बरामदें में बांटले चढाई जा रही थी। इस सम्बंध में शब्द संचार ने 13 फरवरी को "अस्पताल के भर्ती वार्ड में अटाला सामग्री भर कर लगा दिया ताला, बरामदे में मरीजाे को चढ रही बांटल" शीर्षक से खबर को प्रमुखता से प्रकाशित की थी। उसके बाद सोमवार को दोपहर में एसडीएम मनीष जैन ने सुसनेर अस्पताल पहुंचकर महिला भर्ती वार्ड का ताला खुलाया और उसके अंदर रखी गई कबाड की सामग्री को हटवाया। साथ ही दो दिनो के भीतर इस सामग्री को नीलाम करने के निर्देश भी स्वास्थ्य विभाग को दिये। निरीक्षण के दौरान एसडीएम ने स्वास्थ्य कर्मचारीयों को भी खरी-खोटी सुनाई और महिला भर्ती वार्ड में रखी वेस्टेज सामग्री को हटवाकर के उसे दूसरे स्थान पर शिफ्ट कराया। उसके बाद इस वार्ड में महिलाओं को भर्ती किये जाने के निर्देश भी एसडीएम ने रोगी कल्याण समिति के प्रभारी गिरीश पाण्डे को दिये। इस दौरान नगर परिषद सीएमओ हरिवल्लभ शर्मा भी मौजूद थे।


"अस्पताल का निरीक्षण कर महिला भर्ती वार्ड में रखी गई कबाड व अटाला सामग्री को हटवाया है। जिसमें अब महिलाओं को भर्ती किया जाएगा। साथ ही अस्पताल में सुविधाएं बढाने के लिए 25 फरवरी को जिला चिकित्सा अधिकारी के साथ रोगी कल्याण समिति की बैठक रखी गई है। जिसमें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये जाएंगे"
                              मनीष जैन एसडीएम, सुसनेर