प्रदेश सरकार सभी वर्गाे के उत्थान के लिए कृत-संकल्पित प्रभारी मंत्री: एक करोड़ 87 लाख रुपए केे 12 निर्माण कार्याें का भूमि पूजन

आगर-मालवा-मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास विभाग मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने मंगलवार को आगर में मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना अंतर्गत एक करोड़ 87 लाख रुपए के 12 निर्माण कार्याें का विधिवत भूमिपूजन किया गया। 
भूमिपूजन कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रभारी मंत्री सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी वर्गाे के उत्थान के लिए कृत-संकल्पित हैं। इसी के मद्देनजर योजना संचालित कर रही है। आगर में शहरी अधोसंरचना के निर्माण कार्यां की नींव रखी गई है। इनका निर्माण होने से नगर के रहवासियों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि आगर शहर को सुन्दर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। नगर में सौन्दर्यीकरण के कार्य स्वीकृत कर करवाए जाएंगे। नौजवानों के लिए स्टेडियम बनाया जाएगा। रातडिया तालाब के सौन्दर्यीकरण हेतु डीपीआर तैयार की गई है। उसका सौन्दर्यीकरण करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री आवास योजनान्तर्गत के तहत कच्चे मकानों में रहने वालों का सर्वे करवाया जाकर उन्हें आवास निर्माण हेतु ढाई लाख रुपए की राशि दी जाएगी।




प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने आगे कहा कि जिले के युवाओं का कौशल उन्नयन कर स्व-रोजगार योजनाओं से जोड़कर उन्हें रोजगार मुहैया करवाया जाएगा। महिलाओं को अजीविका मिशन अन्तर्गत स्व-सहायता समूहों से जोडकर आत्मनिर्भर बनाने हेतु बैंक से ऋण प्रदाय करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इच्छुक महिलाएं अजीविका मिशन अन्तर्गत समूहों का गठन कर, बैंक से ऋण लेकर अपना व्यवसाय स्थापित कर, आत्मनिर्भर बनें और दूसरों के लिए प्रेरणास्त्रोत बनें। उन्होंने कहा कि जिन्हें फसल नुकसानी का मुआवजा नहीं मिला है उन्हें शीघ्र मिलेगा। मंत्री श्री सिंह ने इस दौरान माली समाज के लिए मांगलिक भवन निर्माण हेतु 10 लाख रुपए की स्वीकृति भी प्रदान की गई। 
कार्यक्रम को जिला कांग्रेस अध्यक्ष बाबूलाल यादव तथा एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष वानखेड़े भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में कलेक्टर संजय कुमार,वरिष्ठ कांग्रेस नेता दुर्गाप्रसाद पालीवाल, जिला पंचायत उपाध्यक्ष देवकरण गुर्जर,  पिन्टू जायसवाल,निलेश पटेल, शंकर सिंह , राष्ट्रीय सचिव एनएसयूआई अंकुश भटनागर, नगर पालिका सीएमओ  सीएस जाट सहित अन्य प्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन शमीउल्ला कुरैशी ने किया।