पुरुस्कार पाकर खिले बच्चों के चेहरे, मंच से दी देशभक्ति की प्रस्तुति

सुसनेर। शनिवार को जमुनिया रोड स्थित सरस्वती ज्ञान मंदिर में पुरस्कार वितरण व प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। वर्ष भर की गतिविधियों में भाग लेकर उच्च स्थान हासिल करने वाले बच्चों को प्रोत्साहन करने हेतु जब प्रशस्त्री पत्रों के साथ शिल्ड, मेडल प्रदान कर सम्मानित किया गया तो बच्चों के चेहरो पर मुस्कान का ठिकाना नही रहा।


कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों द्वारा सरस्वतीजी की प्रतिमा पर माल्यापर्ण कर की गई। मुख्य अतिथि के रूप में एसडीएम मनीष जैन मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मीसाबंदी पारसमली जैन ने की। मुख्य वक्ता के रूप में रिटायर्ड शिक्षक व गायत्री परिवार के दुर्गाप्रसाद सहारिया मौजूद थे। विशेष अतिथि के रूप में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर जी सी गुप्ता, नवोदय के प्राचार्य डी पी रजक, बीईओ बालचंद बागरी, बीआरी के एल मालवीय, राधेश्याम दय्या, मुकेश हरदेनिया, राकेश बिकुन्दिया,आगर विद्यालय के प्राचार्य सतीश दिक्षित, हनुमान गढ़ी विद्यालय के प्राचार्य आनंद कश्यप, शाहीद खांन, मेहताबसिंह अलावा मोजूद थे। कार्यक्रम के दोरान 10 वीं कक्षा के बच्चों का दीक्षांत समारोह भी आयोजित किया गया। वही सांस्कृतिक कार्यक्रमो के जरीये बच्चों ने देशभक्ति व बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओ के संदेश जैसे कार्यक्रम भी पेश किये। कार्यक्रम में 1 से 10 वीं तक विभिन्न प्रकार की खेलकूद प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय और तृतीय आने वाले विद्यार्थीयो को प्रशस्त्रि पत्र, शिल्ड और मेडल प्रदान किये गए। कार्यक्रम का संचालन खिलचीपुर के आचार्य देवेन्द्रकुमार शर्मा ने किया और आभार संस्था प्रधानाचार्य सत्येन्द्रकुमार शर्मा ने माना। इस अवसर पर शिक्षक रामनिवास लोहार, कमल पंवार, आशीक खां, समकित जैन सहित बडी संख्या में स्कूली बच्चे व उनके अभिभावक गण मौजूद थे।