समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए सोसायटीयों में किये जा रहे पंजीयन

सुसनेर। रबी सीजन में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए सोसायटीयों पर किसानों का नि:शुल्क पंजीयन किया जा रहा है। जिलें के सुसनेर में प्राथमिक साख सहकारी संस्था, मार्केटींग सोसायटी और गैलाना सोसायटी के द्वारा नि:शुल्क पंजीयन किये जा रहे है।


अभी तक इन पंजीयन केन्द्रों पर 800 से भी अधिक किसानों का पंजीयन किया जा चुका है। शासन के निर्देशानुसार समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए किसान 1 से 28 फरवरी तक अपना नि:शुल्क पंजीयन केन्द्रों पर जाकर करवा सकते है। पूरे जिलें में 20 पंजीयन केन्द्र बनाए गए है, हालाकि अभी जागरूकता की कमी के चलते किसान इन केन्द्रों पर बहुत कम मात्रा में पंजीयन कराने के लिए पहुंच रहे है। बता दें कि रबी सीजन की मुख्य फसल गेंहू और चना के समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए पंजीयन कार्य 21 जनवरी से शुरू किया जाना था। लेकिन जय किसान ऋण माफी योजना का कार्य होने के चलते सोसायटियों को कम्प्यूटर ऑपरेटर किसानों के ऋण माफी योजना के फार्म जमा करवाने का काम में ड्यूटी लगाई गई थी। जिससे देरी होने के चलते यह कार्य 1 फरवरी से शुरू किया गया।  
पंजीयन के लिए यह दस्तावेज है जरूरी
पंजीयन के लिए किसानों को आवेदन के साथ दस्तावेज भी उपलब्ध कराने होंगे। इसमें आधार नंबर, समग्र आईडी, बैंक खाता की प्रतिलिपी, खसरा, ऋण पुस्तिका की प्रतिलिपी, बंटाई होने पर अनुबंध व मोबाइल नंबर देना अनिवार्य है। एक बार पंजीयन होने के बाद इन दस्तावेजों से अन्य किसान का पंजीयन नहीं हो सकता। विभाग ने किसानों की असुविधा से बचने के लिए सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 के अलाव एक और अन्य नम्बर भी जारी किया है। ताकि पंजीयन में परेशानी होने पर संपर्क किया जा सके। 
आगर जिलें के सुसनेर में बनाए गए पंजीयन केन्द्रों पर 800 के लगभग पंजीयन किसानों को हो चुके है। इसमें से 566 पंजीयन प्राथमिक सहकारी संस्था के है। तो 250 गैलाना सोसायटी व 100 के लगभग मार्केटींग सोसायटी के शामिल है। 
                                   छत्रपालसिंह राणा
                   सहायक प्रबंधक, सहकारी संस्था सुसनेर


 


Popular posts
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image