चैत्र नवरात्री 2020:माँ के मंदिर में पूरी होती है मन्नतें

चौमा-आगर से सारंगपुर जाने वाले मार्ग से पचेटी डेम तक रास्ता जाता है। यहां विराजित है पचेटी वाली महारानी। यह मंदिर भी खासा प्रसिद्ध है।मंदिर का भव्य निर्माण लगभग 2 करोड़ की राशि से भक्तों द्वारा करवाया जा रहा है। पचेटी वाली माताजी के मंदिर में वचन भी दिया जाता है। यहां दूर दूर से श्रद्धालु मन्नते लेकर पहुंचते हैं। मन्नत पूरे होने पर भी भक्त मां के दरबार में शीश नवाने आते हैं। पचेटी वाली बाड़ी माता के नाम से संपूर्ण क्षेत्र में यह मंदिर प्रसिद्धि रखता है। 


Popular posts
अजय झंजी जिला प्रेस क्लब के निर्विरोध अध्यक्ष बने
Image
👹 *तिरिभिन्नाट एक्सप्रेस* 👹 *जानू मेरी जानेमन,दिल तुझे दिया है..बचपन का प्यार मेरा भूल नही जाना रे- आपका कोरोना*
Koo (कू) बना सार्वजनिक क्षेत्र में एमिनेंस मानदंड शेयर करने वाला पहला भारतीय सोशल नेटवर्क
Image
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
वॉचो ने नई ड्रामा सीरीज “चीटर्स– दवैकेशन” का प्रीमियर किया इससीरीज में सुब्रत दत्ता, शफाक नाज और परम सिंह जैसे मशहूर कलाकार शामिल हैं
Image