ईद सादगी से मनाए कोई नया कपड़ा नही पहनें-  नज़ीर एहमद

आगर मालवा- देश ही नही पूरे विश्व मे कोरोना नामक वायरस ने कई लोगो को संक्रमित कर दिया है। कई नागरिक असमय ही काल के गाल में समा गए है और अभी भी इसका खतरा बरकरार हैं
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने पूरे देश मे लॉकडाउन कर दिया है। 3 मई को 40 दिन पूरे हो जायेगे।लॉकडाउन का असर ये हुआ कि विदेशों में जो मरने वालों की संख्या है उससे हम बच गए दूसरे कुछ देश लॉकडाउन से घबरा गए कि ज्यादा दिन लॉकडाउन रहा तो देश की 
अर्थव्यवस्था चरमरा जाएगी। हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा भाईयो मैं अपने देश के किसी भी नागरिक को न तो भूख से मरने दूँगा न बीमारी से मरने दूँगा।पहले इंसान की जिंदगी का सवाल है अर्थ व्यवस्था तो हम सुधार लेगे।लॉकडाउन से ही कोरोना को रोका जा सकता है और वो काम मोदी जी ने किया। हमारे प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने भी लॉकडाउन में जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए समय समय पर प्रशासनिक अमले को दिशा निर्देश देकर जनता की परेशानी को समझने और सुलझाने की बात कही।
ऑल इंडिया मुस्लिम त्योहार कमेटी जिला अध्यक्ष नज़ीर एहमद ने कहा मेरा मुस्लिम समाज से ये आग्रह है कि अभी देश के हालात बहुत नाजुक है। कई योद्धा कोरोना की चपेट में आकर शहीद हो गए है। ये सब वो योद्धा है जिन्होंने  हमे बचाने में अपने परिवार की भी चिंता नही की। वे लगे रहे दिन रात हमारी खिदमत में आज कई पुलिस अधिकारी,कर्मचारी,डॉक्टर्स, स्वास्थ विभाग के कर्मचारी और कई समाज सेवीयो को ये कोरोना निगल गया जो हम सबके लिए दुख की बात है।कभी सोचा भी नही होगा कि जिसके हाथ मे जिंदगी और मौत है उनके इबादतगाहों ,दरगाहों में मंदिरों में मस्जिदों में ताले लगाने पड़ेगे। सब धार्मिक स्थल बंद है खुले है तो सिर्फ अस्पताल।
रमजान जैसे पवित्र महीने में पांचो वक़्त की नमाजे विशेष नमाज तरावीह और रोजा अफ़्तीयार जब घरों में हो रहा है। तो हम ईद भी सादगी से मनाए कोई नया कपड़ा नही पहने क्योकि हमे बचाने में कितने कर्मवीर योद्धा शहीद हो गए। हम अल्लाह की इबादत और ईद की नमाज के साथ उन वीर शहीदों को भी याद करे उनके मग़फ़ेरत की दुआ करे और ईद पर कोई नया कपड़ा नही पहने।तमाम कोरोना में शहीद हुए वीर योद्धाओं को श्रद्धांजलि देकर दुआ करे कि अल्लाह हमारे हिंदुस्तान में सबको सेहत अता करे कोरोना से निजात दिलवाए और हमारा देश एकता की भावनाएं लेकर तरक्की करे ।
 नजीर एहमद ने सभी काजी साहेबानो ,सदर साहेबानो से उम्मीद की है कि वो तमाम मस्जिदों से ये ऐलान कराए की इस बीमारी के दौर में तमाम वीर योद्धाओं की शहादत को याद करते हुए ईद सादगी से मनाए और कोई नया कपड़ा नही पहने।


Popular posts from this blog

रविवार से लापता युवक का शव मिला:तहकीकात जारी

फिल्मी स्टाईल में सनसनीखेज वारदात:सराफा बाजार में बंदुकधारी बदमाशों ने सब्बल से ताले तोड़े और बोरो में भरकर ले गए जेवरात

जंगल मे पड़ा हुवा था खून से सना हुवा शव: चरवाहे की हत्या की आशंका:पुलिस कप्तान ने किया घटना स्थल का निरीक्षण