गेहूं उपार्जन केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया: एसएमएस प्राप्त होने पर निर्धारित दिनांक व केन्द्र पर अपनी उपज लेकर पहुंचे

आगर मालवा-कलेक्टर  संजय कुमार ने शुक्रवार को आगर विकास खण्ड के कानड़ में रामेश्वर वेयर हाउस पर स्थापित उपार्जन केन्द्र, ग्राम पचेटी, पचलाना में सहकारी समिति द्वारा संचालित गेहूं उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण कर गेहूं खरीदी कार्य का जायजा लिया।


कलेक्टर ने केन्द्रों पर कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर सोशल डिस्टेंस का पालन सभी से कराने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने हेतु प्रदेश स्तर से किसानों को सीमित संख्या में एसएमएस भेजकर बुलाया जा रहा है, ताकि अधिक भीड़ केन्द्रों पर न हो, जिससे किसान एवं कार्यरत कर्मचारी भी सुरक्षित रहे। उन्होंने कहा कि किसान अपने पंजीकृृत मोबाइल नम्बर पर शासन स्तर से एसएमएस प्राप्त न हो तब तक अपनी उपज लेकर खरीदी केन्द्रों पर न आए। मैसेज प्राप्त होन के पश्चात निर्धारित दिनांक और समय पर अपने खरीदी केंद्र उपज लेकर उपस्थित रहे। 
कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है। अतः किसान केन्द्रों पर इसका पालन करें। अपने हाथों को सैनेटाईज करें, मुंह पर मास्क अनिवार्य पहनकर रखें, एस-दूसरे के सम्पर्क में न आए और अनावश्यक रूप से कोई वस्तु को न छुए और शांति पूर्ण तरीके से अपनी उपज तौल करवाए। किसानों को किसी प्रकार की कोई समस्या खरीदी केन्द्रों पर नही होने दी जाएगी।


किसी प्रकार की कोई समस्या होने पर केन्द्रों नियुक्त नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी को अवगत कराकर उसका निराकरण करवा सकते है। कलेक्टर ने कहा कि उपार्जन केंद्रों पर गेहूं खरीदी के पर्यवेक्षण और नियंत्रण के लिए सेक्टर अधिकारियों की भी नियुक्ति की गई है। उन्होंने सभी सेक्टर अधिकारियों को उन्हें सौंपे गए उपार्जन केंद्रों का नियमित भ्रमण कर खरीदी की व्यवस्था का निरीक्षण करने के निर्देश दिए।
उल्लेखनीय हैै कि रबी विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर जिले के पंजीकृृत किसानों से गेहूं खरीदी के लिए जिले में गोदाम एवं समिति स्तर पर 39 उपार्जन केंद्र बनाए गए हैं। जिन पर 15 अप्रैल से गेहूं खरीदी का कार्य किया जा रहा है। जिले के पंजीकृृत कृृषकों को उनके दिए गए मोबाईल नम्बरों पर एसएमएस भेजकर खरीदी के लिए केन्द्रों पर बुलाया जा रहा है।