मानसिक संबल की संजीवनी बूटी बन रहा है, सहज योग: लॉक डाउन के दौरान ऑनलाइन कर रहे हैं ध्यान

आगर-मालवा - इस समय पूरा विश्व कोरोना महामारी के संक्रमण के घातक परिणामों से जूझ रहा है, लोग लॉकडाउन की वजह से अपने-अपने घरों में बंद है ओर भय हताशा एवं निराशा का जीवन जी रहे हैं।


सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए आस्था के सभी केंद्रों मंदिर,मस्जिद चर्च,गुरुद्वारों में ताले लगे हैं। ऐसे में कुंडलिनी जागरण द्वारा आत्मसाक्षात्कार पर आधारित सहजयोग इस समय लाखों लोगों को मानसिक शांति देने एवं आंतरिक ऊर्जा का स्तर बढ़ाने के साथ स्वाभाविक रूप से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने एवं उनमें कोरोना का डर समाप्त करने में कारगर भूमिका निभा रहा है।
 आगर सहजयोग परिवार समन्वयक दीपक घुघरिया ने निर्मला देवी सहज योग ट्रस्ट नई दिल्ली के उपाध्यक्ष दिनेश राय व मध्य प्रदेश के राज्य समन्वयक महेंद्र व्यास के हवाले से बताया कि कोरोना वायरस  से मानवजाति के संरक्षण के लिए विश्व के 70 देशों के लगभग 2.50 लाख सहजयोगी अपने-अपने घरों में ऑनलाइन ध्यान कर रहे हैं। यही क्रम आगर मालवा जिले में भी जारी है। घुघरिया ने बताया कि इन दिनों पुणे स्थित सहजयोग प्रतिष्ठान सोशल माध्यम से यूट्यूब पर सीधे प्रसारण से ऑनलाइन ध्यान कराया जा रहा है जिसे देश-विदेश सहित हमारे जिले के भी साधक-साधिकाए सहित नए लोग भी ध्यान कर रहे हैं वह सीख रहे हैं।इस ध्यान के माध्यम से सामूहिक शक्ति से विश्वव्यापी बाधा समाप्त करने हेतु प्रार्थनाएं सहजयोग ध्यान पद्धति से जुड़ी सभी  दिव्ययुक्तियों का प्रयोजन अपने-अपने स्तर से कर रहे हैं। यह प्रसारण प्रातः 5:30 एवं शाम 7:00 बजे से विज्ञान एवं तकनीकी के मर्मज्ञ,पूर्ण रूप से स्थापित  सहजयोगियों द्वारा किया जा रहा है और जो लोग इस निशुल्क ध्यान से जुड़ना चाहते हैं,वे टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800 3070 0810 से जुड़ सकते हैं।