मास्क एवं सैनेटाईजर अधिक दाम पर बेचने की शिकायत के बाद आगर व नलखेड़ा में प्रशासकीय टीम ने की पड़ताल:लेबल संबंधी गड़बड़ी के कारण इंदौर की कंपनी को जारी होगा नोटिस

आगर-मालवा- खाद्य सुरक्षा विभाग, आपूर्ति विभाग एवं नापतौल विभाग की संयुक्त टीम द्वारा  गुरूवार को आगर जिले में मास्क एवं सैनिटाइजर महंगे दाम पर बेचे जाने की शिकायत पर पड़ताल करते हुए जांच की गई।


टीम द्वारा तिरुपति मेडिकल एजेंसी छावनी आगर,मूलचंद मनोजकुमार मेडिकल स्टोर नाना बाजार आगर, जीतमल चुनीलाल मेडिकल सराफा बाजार आगर, महांकाल मेडिकल शिवजी  चैराहा नलखेड़ा, पटेल मेडिकल भैसोदा चैराहा नलखेड़ा, राधास्वामी मेडिकल डोकरपुरा नलखेड़ा की जांच की गई। जांच में पाया कि कपड़ा एवं 3 लेयर मास्क  10 रुपये प्रति नग, सैनिटाइजर 50 एमएल 25 रुपए प्रति नग, सैनिटाइजर 85 एमएल 42 रुपए प्रति नग, सैनिटाइजर 100 एमएल 50 रुपए प्रति नग, सैनिटाइजर 120 एमएल 60 रुपए प्रति नग, सैनिटाइजर 500 एमएल 250 रुपए प्रति नग, सैनिटाइजर 550 एलएल 275 रुपए प्रति नग विक्रय होना पाया गया। दुकानों पर रेट लिस्ट चस्पा पायी गई।
  तिरुपति मेडिकल एजेंसी से विक्रय हेतु संग्रहित एवं विक्रय करते पाये गए पुरेस्ट ब्रांड के सेनेटाइजर पर लेबल संबंधी अनियमितता के चलते इसके निर्माता कंपनी कलरकेम इंडस्ट्रीज आर आर कंपाउंड इंदौर को नोटिस भेजा जा रहा है। साथ थोक विक्रेता को 19 बॉटल उक्त सेनेटाइजर जप्त कर अभिरक्षा में दिया। संतोष प्रद जवाब प्राप्त न होने तक इस तरह के पुरेस्ट ब्रांड सेनेटाइजर का विक्रय न करने के निर्देश दिए।किसी भी प्रकार की कोई कमी अनियमितता नही पायी गई। 
आगर जांच दल में खाद्य सुरक्षा अधिकारी के एल कुम्भकार, कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी रघुराज सिंह डोडिया, नापतौल विभाग के लेखपाल आशीष शर्मा, नलखेड़ा जांच दल में नायब तहसीलदार प्रियंक श्रीवास्तव, कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी योगेश राणावत, कस्बा पटवारी, नगर पालिका के कर्मचारी शामिल रहे।