समाजसेवी सुरेश बैरागी ने गांव पहुँचकर जरूरतमंद मजदूरों को बाटी राहत

आगर मालवा- 33 परिवारों में रहने वाले करीब 200 लोग जो,पेशे से मजदूर है।लॉक डाउन के चलते खासे परेशान है।यह जानकारी मिलते ही वे अपनी टीम के साथ निकल पड़ते है ग्राम बड़गोन नदी वाले डेरा की ओर।
यहा हम बात कर रहे समाजसेवी सुरेश बैरागी की।वे लॉक डाउन के प्रथम चरण से ही सेवा कार्य मे जुटे हुवे है।मूक पशु पक्षियों के लिए भी फल इत्यादि के इंतजामात उनके द्वारा किये गए। ग्राम बड़गोन नदी वाले डेरा में लगभग 33 परिवारों में 200 लोग निवासरत है।बंजारा समाज के इन लोगो का मुख्य कामकाज मजदूरी ही है।लॉक डाउन के कारण उन्हें मजदूरी नही मिल पा रही है।सुरेश बैरागी अपने साथी भाजयुमो जिलाध्यक्ष मयंक राजपूत,मनोज परमार व अन्य के साथ मंलवार को ग्राम पहुचे ओर आवश्यक सामग्री 33 परिवारों को वितरित की। यहां तीन कुछ परिवारों को छोड़कर सभी के पास राशनकार्ड उपलब्ध है।उन्हें गेहू व अन्य सामान तो मिल गया था।


श्री बैरागी द्वारा वितरित किये गए राहत पैकेट में 2 किलो शकर,1 किलों तुवर दाल,200 ग्राम चाय,250 मिर्ची,200 ग्राम हल्दी,100 ग्राम जीरा,डेढ़ किलो खाद्य तेल,1 किलो सर्फ, कपड़े धोने का साबुन 1,खोपरे का तेल 1 नग शामिल है।कुछ परिवारों को जिन्हें राशन नही मिला उन्हें आटा भी दिया गया।जरूरतमंद लोगों की निःस्वार्थ भाव से की जा रही सेवा की आमजन द्वारा प्रशंसा की जा रही है।