आगर-मालवा जिले के विकास में कोई कसर नहीं छोडूंगा-मुख्यमंत्री श्री चौहान 

आगर-मालवा,शब्द संचार न्यूज-प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज 14 जुलाई को आगर-मालवा जिले में नई कृषि उपज मंडी आगर में आयोजित विकास कार्यां का भूमिपूजन एवं लोकार्पण व हितग्राहियों का लाभ वितरण कार्यक्रम में आमजन को सम्बोधित करते हुए कहा कि आगर-मालवा जिले के विकास में मैने पहले भी कोई कसर नहीं छोड़ी थी, आगे भी नहीं छोडूंगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार जनता एवं किसानों की सरकार है। सरकार प्रदेश की जनता के विकास के लिए कृत-संकल्पित है।कोविड-19 संकट के इस दौर में प्रदेश सरकार जनता के साथ खड़ी हैं, उन्हें कोई परेशानी न होने दी जाएगी। प्रदेश में राशन सामग्री की कमी नहीं हैं, लॉकडाउन में गरीबों और मजदूरों को मुफ्त राशन बांटा हैं, आवश्यकता पड़ने पर आगे भी गरीब परिवारों को राशन सामग्री मुहैया करवाई जाएगी। लॉकडाउन में अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को प्रदेश में लाने की व्यवस्था की गई एवं एक-एक हजार रुपए की राशि उनके खातों में जमा करवाई, ताकि उन्हें कोई परेशानी न हों। प्रवासी मजदूरों को अब प्रदेश में ही रोजगार उपलब्ध करवाया जा रहा है। 


  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम में मंच से शासन की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हितलाभ वितरण भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार ने 100 दिनों में जो कर दिखाया वह पिछली सरकार 15 माह में भी नहीं कर पाई। उन्होंने कहा कि फसल ऋण माफी योजनान्तर्गत ऋण माफ नहीं होने से जो किसान बैंक डिफाल्टर हुए हैं, उनका ब्याज का पैसा प्रदेश सरकार भरेगी। किसानों को किसी भी स्थिति मेंं परेशान नहीं होने दिया जाएगा। 


  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार बनते ही कोविड-19 की बैठक लेकर पूरे प्रदेश में पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित किए गए। लॉकडाउन के समय की विषम परिस्थितियों के बावजूद भी सरकार ने किसानों से समर्थन मूल्य पर 1 करोड़ 29 लाख मेट्रिक टन गेहूं की खरीदी कर प्रदेश ने देश में प्रथम स्थान पाया है। उन्होंने कहा कि गरीबों को संबल प्रदान करने वाली संबल योजना सरकार ने पुनः चालू कर दी है। जिसका लाभ प्रदेश के सभी पात्र परिवारों को मिलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार बनते ही प्रदेश के किसानों को कोरोना संकटकाल में पिछले वर्षां का रूका हुआ फसल बीमा सीधे उनके खातों में पहुंचाया है। जिसके तहत् प्रदेश के 15 लाख किसानों को लगभग 2200 करोड़ रुपए का फसल बीमा राशि वितरित की गई। खरीफ फसल बीमा की 4 हजार करोड़ रुपए की राशि और भी प्रदेश के किसानों को दी जाएगी। उन्होंने कहा कि बोर्ड परीक्षाओं की प्रावीण्य सूची में आने वाले छात्रों को लेपटॉप दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि छोटे व्यापारी जो फूटपॉथ पर ठेला, दुकान लगाकर अपनी अजीविका चलाते हैं, उनके लिए भी सरकार ने शहरी एवं ग्रामीण स्ट्रीट वेण्डर योजना शुरू की। जिसमें 10 हजार रुपए की राशि उनके व्यवसाय को सुचारू चलाने के लिए बिना ब्याज पर दी जाएगी।


     मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगर-मालवा को जब से जिला बनाया गया है, कई विकास कार्या की सौगात दी गई है। जिले में वृहद् सिंचाई परियोजना का निर्माण करवाया है, जिसका पानी जिले के किसानों के खेतों तक पहुंचाया जाएगा। जिससे किसानों की असिंचित भूमि पर भी फसले लहलहाएगी। खेती के लिए सिंचाई का पानी मिले इसके लिए जहां भी आवश्यकता होगी वहां-वहां बांध बनाए जाएंगे। 


  कार्यक्रम को राज्य सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सम्बोधित करते हुए कहा कि शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली वर्तमान प्रदेश सरकार जनसेवा के उद्देश्य से कार्य करने वाली सरकार है। इसका साफ उदाहरण कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान देखने को मिला, जब मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश की कमान संभालते ही, कोविड-19 से निपटने के लिए प्रदेश की जनता के हित में तत्परता से निर्णय लेकर, इस महामारी से बचाया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान बिना मंत्रिमंडल के विस्तार के ही अकेले ही कोरोना से निपटने में जो निर्णय लिए एवं तत्परता दिखाई है, वह तारीफ के काबिल है। राज्यसभा सांसद श्री सिंधिया ने कोरोना से बचाव में लगे चिकित्सक, नर्स, पेरामेडिकल एवं पुलिस विभाग का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मैं उन सभी के लिए नतमस्तक हूं, जो अपनी जानजोखिम में डालकर इस कोरोना रूपी जंग में वायरस को हराने हेतु कार्य कर रहे है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना कॉल में देश की 130 करोड़ जनता की जान बचाने के लिए समय पर लॉकडाउन का महत्वपूर्ण फैसला लेकर विश्व को एक नया रास्ता दिखाया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता के साथ अन्याय हो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, पिछली सरकार ने जो किसानों एवं जनता से वायदे किए थे, 15 माह के कार्यकाल में उनमें से एक भी पुरे नहीं किए। जबकि वर्तमान सरकार ने कोरोना जैसी विषम परिस्थितियों में भी मजदूर, बेरोजगार, महिलाएं एवं सभी जरूरतमंदों के हित में निर्णय लेकर लागू किए है। 


  खजुराहों सांसद व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले 15 सालों में विकास की नई इबारत लिखी है, प्रदेश को एक बीमारू राज्य से विकसित राज्य बनाया है। पिछले 100 दिनों की सरकार ने प्रदेश के हर वर्ग के लिए योजना बनाकर उन्हें संचालित कर अंतिम छोर के व्यक्ति तक लाभ पहुंचाया है। 


     विधायक विक्रम राणा ने कहा कि उनके कार्यकाल में जिले में कई विकास कार्य करवाए है। आगे भी क्षेत्र के विकास को प्राथमिकता दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिले के विकास के लिए जो दायित्व जिले की जनता ने मुझे सौंपा है, वह सरकार के बिना सहयोग के संभव नहीं था, इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली सरकार के साथ आया हूूं। उन्होंने जिले में स्वीकृत घर-घर नल से जल योजना का क्रियान्वयन कराने एवं जिले में संतरा उत्पादन के दृष्टिगत फ्र्रुड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित करवाने हेतु अपनी मांग रखी। कार्यक्रम को पूर्व केन्द्रीय मंत्री सत्यनारायण जटिया ने भी सम्बोधित किया। 


    इस अवसर पर मंत्री मोहन यादव, राजगढ़ रोड़मल नागर, विधायक सुसनेर विक्रम सिंह राणा, पूर्व विधायक श्रीमती रेखा रत्नाकर, लालजीराम मालवीय, गोपाल परमार, मुरलीधर पाटीदार,फूलचंद बेदिया, बद्रीलाल सोनी, जिला अध्यक्ष भाजपा गोविंदसिंह बरखेड़ी, सामाजिक कार्यकर्ता दिलीप सकलेचा, प्रेम मस्ताना, कैलाश कुम्भकार सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं उज्जैन संभागायुक्त आनंदकुमार शर्मा, पुलिस महानिरीक्षक राकेश गुप्ता, डीआईजी मनीष कर्पूरिया, कलेक्टर अवधेश शर्मा, पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सगर, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती अंजली जोसेफ सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन एमपी एग्रो जिला प्रबंधक ओपी विजयवर्गीय ने किया तथा उपस्थितजनों को आभार कलेक्टर अवधेश शर्मा ने माना।


Popular posts
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
ऑरा ने इंदौर में नए स्टोर के साथ अपनी खुदरा उपस्थिति का विस्ताकर किया भारत की प्रमुख डायमंड ज्वैलरी रिटेल चेन ने इंदौर में अपना नया स्टोर लॉन्च किया
फीमेल एम्प्लॉयीज़ को मेंस्ट्रुअल लीव देने वाला मध्य भारत का पहला स्टार्टअप
Image
लाख तरक्की के बावजूद हम बुजुर्गों का ख्याल रखने में पीछे हैं- अतुल मलिकराम
Image
बाबा बैजनाथ महादेव का आज का संध्या श्रृंगार दर्शन
Image