जो व्यक्ति पात्र होने के बावजूद मुआवजा से वंचित है, उसे मुआवजा प्रदान करने की कार्यवाही करें

आगर-मालवा,शब्द संचार न्यूज-कलेक्टर अवधेश शर्मा की अध्यक्षता में कुण्डालिया वृहद् सिंचाई परियोजना की समीक्षा बैठक शनिवार को कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में सम्पन्न हुई। कलेक्टर ने बांध अन्तर्गत डूब प्रभावित गांवों के पुनर्वास एवं मुआवजा वितरण पर विस्तार पूर्वक चर्चा की। कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को डूब प्रभावितों ग्रामीणों की लम्बित शिकायते एवं उनकी समस्याओं का सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंनें कहा कि जो व्यक्ति पात्र होने के बावजूद मुआवजा से वंचित है, उसे मुआवजा प्रदान करने की कार्यवाही करें। भू-अर्जन संबंधी कार्यां में शासन के दिशा-निर्देशों का भलीभांति निर्वहन करें। उन्होंने निर्देश दिए जिन लोगों को मकान अर्जित किए है, यदि उन्हें एकमुश्त पुनर्वास भत्ता चाहिए, तो देने की कार्यवाही करें तथा जिनकी आवास निर्माण हेतु प्लाट की मांग है, उन्हें प्लाट उपलब्ध कराया जाए। इसके अन्तर्गत कौन व्यक्ति पात्र एवं अपात्र होगा इसकी जानकारी तैयार करें तथा प्रभावितों को भी इस जानकारी से अवगत कराएं। उन्होंने पुनर्वास अनुदान हेतु एक अलग से समिति गठित करते हुए समिति की जांच उपरांत संबंधित को भुगतान करने के निर्देश दिए। 


  कलेक्टर ने निर्देश दिए कि डूब प्रभावित सिंचित एवं असिंचित भूमि का डेटाबेस संबंधित के पास उपलब्ध रहे। जिन डूब प्रभावितों ने अभी तक भूमि की रजिस्ट्री नहीं कराई है, उनके लिए धारा 11 को का प्रकाशन करवाकर अवार्ड पारित करवाए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि डूब क्षेत्र के गांवों का सर्वे कर और सीमांकन हुआ या नहीं देखें। जिन व्यक्तियों की रजिस्ट्री हो चुकी है, इसके बाद भी दावा-आपत्ति की गई है, उनकी सूची तैयार करें।  


  बैठक में अपर कलेक्टर एनएस राजावत,एसडीएम महेन्द्र सिंह कवचे, संयुक्त कलेक्टर अशफाक अली, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती कल्याणी पांडे, कुंडलिया परियोजना प्रबंधक अजय गुप्ता एवं शुभंकर विश्वास, दिनेश चन्द्र वैश्य एवं संबंधित तहसीलदार, पटवारी तथा भू-अर्जन शाखा प्रभारी नितिन जादमे उपस्थित रहे।


Popular posts
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
Prediction of Beawar's Astrologer Dilip Nahta on 04 May
Image
आगर पुलिस को मिली बड़ी सफलता:चार पहिया वाहन चोर गिरोह पकड़ाया:यूपी में बेचते थे चोरी की गाड़िया
Image
धरती पर अब एक नया हीरो आ गया है और आपको हीरो के बारे में यह चीज़ें ज़रूर जाननी चाहिए
Image