उज्जैन के पाटीदार हॉस्पिटल में लगी भीषण आग:
उज्जैन। जीरोपाइंट ब्रिज के पास स्थित पाटीदार हास्पिटल की दूसरी मंजिल स्थित प्रायवेट वार्ड में अज्ञात कारणों के चलते भीषण आग लग गई। आग की लपटें और धुआं इतना भयावह था कि अस्पताल में भर्ती मरीज और उनके परिजनों में अफरा-तफरी मच गई। लोग जान बचाने के लिये यहां वहां भागने लगे। आग से झुलसे 4 लोग गंभीर है। आधा दर्जन से अधिक मरीजों के झुलसने और घायल होने की पुष्टि हो पाई है। सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की एक दर्जन दमकलें आग पर काबू पाने के प्रयास में लगी, जबकि झुलसे मरीजों को माधवनगर और जिला अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। पाटीदार अस्पताल की दूसरी मंजिल पर प्रायवेट वार्ड स्थित है। सुबह 11.30 बजे बाद प्रायवेट वार्ड से धुआं निकलते लोगों ने देखा। अस्पताल स्टाफ ने तुरंत फायर ब्रिगेड को इसकी सूचना दी, लेकिन तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया था जिससे अस्पताल में भर्ती मरीजों और उनके परिजनों में अफरा तफरी फैल गई। कुछ लोग दूसरी मंजिल से भागकर नीचे की ओर आये तो कुछ लोग घबराहट में दूसरी मंजिल से तीसरी मंजिल की ओर भागे और वहां से पास की बिल्डिंग पर छलांग लगा दी। आग की लपटें चौथी मंजिल तक पहुंच चुकी थी। अस्पताल में 19 कोरोना के मरीज भी भर्ती थे : बताया जाता है कि पाटीदार अस्पताल में करीब 19 कोरोना पाजिटिव मरीज भर्ती थे जो आग लगने के बाद यहां वहां भाग गये। सीएमएचओ डॉ. महावीर खंडेलवाल सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों की टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। कोरोना मरीजों को माधवनगर, अन्य को जिला चिकित्सालय भेजा पाटीदार अस्पताल में आग लगने पर अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों को माधवनगर अस्पताल में शिफ्ट किया है। वहीं अन्य भर्तीमरीजों को जिला चिकित्सालय पहुंचाया है। अस्पताल में भर्ती मरीज और उनके परिजन जान बचाने के चक्कर में झुलस गए। कईं गिरकर भागम-भाग में गिरकर घायल भी हो गए।
Popular posts
भाजपा नेताओं की आपसी फूट के चलते गरीबों की आवास योजना चढ़ी राजनीति की भेंट: मामला प्रधानमंत्री आवास योजना का: अपात्र हितग्राहियो द्वारा सौंपा गया ज्ञापन
Image
पेन स्टूडियोज़ की जया जानकी नायक/खूँखार यूट्यूब पर 500 मिलियन से अधिक व्यूज़ पार करने वाली पहली भारतीय फिल्म
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस:डिजिटल हेल्थ कैम्पेन के साथ 80 लाख लोगों तक पहुँचने और उनके शरीर और दिमाग में बदलाव लाने का लक्ष्य
Image
"मेरा पहला विश्व खिताब मेरे करियर में सबसे खास रहा है क्योंकि मैं वहां बिना कुछ बने गया था": पंकज आडवाणी
Image
विशेष संपादकीय- सामाजिक दायित्वों का सजग प्रहरी शब्द संचार
Image