मृत्यु भोज न करने की सूचना के बाद भी करवाया कार्यक्रम: उलंघन करने पर तहसीलदार द्वारा की गई कार्यवाही

 आगर मालवा-कलेक्टर  अवधेश शर्मा द्वारा जिले में कोरोना संक्रमण से आम जन को बचाने हेतु जिले में 15 मई तक जनता कर्फ्यू लगाया गया है। साथ ही इस अवधि में जिले में विवाह समारोह सहित अन्य भीड़ भाड़ वाले समस्त कार्यक्रमो को भी प्रतिबंधित किया गया हैं। इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्रो में मृत्यु भोज व विवाह जैसे कार्यक्रम धड़ल्ले से जारी है।

 


शनिवार को विकासखंड नलखेड़ा के ग्राम लसुल्डीया केलवा में तहसीलदार आशीष अग्रवाल,एवं थाना प्रभारी अनिल पुरोहित सहित प्रशासनिक अमले द्वारा मृत्यु भोज कार्यक्रम रुकवाया गया। शुक्रवार को मृत्यु भोज की जानकारी प्राप्त होने पर उक्त गाँव में पटवारी एवं ग्राम पंचायत सचिव द्वारा मृत्यु भोज नहीं करने संबंधी सूचना पत्र आयोजक भगवान सिंह पिता मोतीलाल को दिया गया।परंतु शनिवार को आदेश की अवहेलना करते हुए संबंधित द्वारा मृत्यु भोज कार्यक्रम किए जाने की जानकारी प्राप्त होने पर प्रशासनिक अमले द्वारा तुरंत आयोजन स्थल लसुल्डिया केलवा  में पहुँचकर मृत्यु भोज रुकवाया गया। साथ ही तहसीलदार द्वारा कार्यक्रम के आयोजक भगवान सिंह ,टेंट हाउस, सहित हलवाई को सख्त चेतावनी दी गई। कार्यवाही के दौरान रीडर रामचन्द्र गायरी, एस आई नानूराम बघेल,परवारी राजेंद्र वसुलिया पंचायत सचिव  पाटीदार मौजूद रहे। वही आगर जिले के ग्राम रानायरा राठौर में भी बस भरकर बाराती आने पर प्रशासन द्वारा बस को लौटाया गया।