छतरपुर की बक्स्वाहा तहसील के 5 तहसील के 17 गांवों के ग्रामीणों ने लिया पर्यावरण संरक्षण का संकल्प:दीर्घकालिक विकास परियोजनाओं को समर्थन देने की प्रतिबद्धता भी जताई




बक्स्वाहा (छतरपुर) ५ जून २०२१: विश्व पर्यावरण दिवस 2021 के अवसर पर आज छतरपुर जिले की बक्स्वाहा तहसील के ग्रामीणों ने उनके क्षेत्र में पर्यावरण के संरक्षण से संबंधित और दीर्घकालिक विकास परियोजनाओं को समर्थन देने का संकल्प लिया।


बक्स्वाहा तहसील के ग्रामीण समुदाय द्वारा यह संकल्प लेने से पर्यावरण के संरक्षण के साथ-साथ इस क्षेत्र की सामाजिक और आर्थिक स्थिति के उत्थान की दिशा में भी ठोस कदम उठाए जा सकेंगे। इस तरह तहसील से जुड़े गांवों में विकास को बढ़ावा देने और पर्यावरण को संरक्षण देने के दोनों कार्यों के बीच आवश्यक संतुलन बना पाना संभव हो सकेगा।



छतरपुर की बक्सवाहा तहसील की पांच ग्राम पंचायतों (तेरियामद, बीरमपुरा, मझोरा, गधोई और नीमनी) के ग्रामीण आगे आए हैं और ‘पर्यावरण संदेश’ नामक एक अभियान में शामिल हुए हैं। 


आज पांच सरपंचों ने व लगभग 500-700 ग्रामीणों ने इस के  मुहीम मे भाग लिया इस संकल्प पत्र के माध्यम से  मुहीम मे भाग लिया।  निकट भविष्य में और अधिक ग्रामीणों के इस अभियान से जुड़ने की उम्मीद है। 


इस संकल्प के तहत ग्रामीण पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन के लिए लगातार प्रयास करेंगे, साथ ही वे अपने इलाके के लिए आवश्यक दीर्घकालिक विकास परियोजनाओं को भी बढ़ावा देंगे। 


ग्रामीणों ने सरकार की विकास परियोजनाओं और क्षेत्रीय विकास और औद्योगीकरण की पहल का गर्मजोशी से स्वागत किया है।


जैसे-जैसे भारत सरकार दीर्घकालिक विकास एजेंडा पर आगे बढ़ती है, इस क्षेत्र में विकास संबंधी रणनीतियों को लागू करने के लिए महत्वपूर्ण अवसर मिलेंगे, जो सबको साथ लेकर आगे बढ़ने के एजेंडे को पूरा करने के लिए सस्टेनेबल और इनक्लूसिव दोनों हैं।


बक्स्वाहा में ग्रामीणों द्वारा उठाए गए इस अग्रणी कदम से क्षेत्र में विकास को बढ़ावा देने से संबंधित एक अनूठा उदाहरण कायम होगा और इसे न केवल राज्य के लिए, बल्कि पूरे देश के लिए एक प्रेरणास्पद कहानी के रूप में देखा जाएगा।

Popular posts
कोरोना से कब मिलेगी पृथ्वी को निजात.... 👏👏👏 ब्यावर के एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी .... गुरु हस्ती कृपा से ग्रहों के अनुसार पृथ्वी पर आने वाले अगले लगभग 175 दिनों तक यानी 23 सितंबर 2020 तक विश्व के कई देशों में कोरोना जैसे वायरस या अन्य तरह के कई वायरसों से या प्राकृतिक आपदाओं से या युद्ध से तबाही होने के संकेत परंतु भारत को आने वाले लगभग 90 दिनों तक बेहद संभलकर चलने की जरूरत यानी लगभग 06 जुलाई 2020 तक भारत इस वायरस पर पूरी तरह से अंकुश लगाने में हो जाएगा कामयाब , इसके अलावा 29 अप्रैल 2020 को पृथ्वी के पास से गुजरने वाले एस्टरॉयड से नहीं होगा दुनिया का अंत , कहते हैं ब्रह्मांड में कोई ईश्वरीय शक्ति मौजूद है , यदि नाहटा के बताए गए मंत्रों को पूरे भारतवासी कर गए तो नाहटा का मानना है कि जल्दी ही आज से 40 दिनों के भीतर यानी 14 मई 2020 तक भारत इस वायरस पर काबू पाने में सफल हो जाएगा और इन मंत्रों को करने वालों को यह वायरस छू भी नहीं सकेगा , इसके अलावा देश सेवा हेतु लोक कल्याण की भावना के उद्देश्य से नाहटा पूरे देशभर की जनता को हिम्मत देने हेतु यानी देशभर की जनता का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से 06 अप्रैल 2020 से ज्योतिष के माध्यम से नाहटा बिल्कुल निशुल्क रूप से प्रतिदिन लोक डाउन तक देशभर की जनता के द्वारा पूछे गए दो सवालों का जवाब देंगे एवं नाहटा ने भारत सरकार को दिए सात नए सुझाव , इस एप्स में जानिए पूरी डिटेल्स .....
Image
Prediction of Beawar's Astrologer Dilip Nahta on 04 May
Image
आगे वही बढ़ा है, जिसने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा
Image
श्रीकृष्ण रतन एकेडमी की निःशुल्क ऑनलाइन क्लासेस को मिल रहा है अपार समर्थन
Image
कोरोना से एक और मौत:विवेकानंद नगर के रहवासी ने उज्जैन में दम तोड़ा