अब न जानते हुए भी कई भाषाओं में आप कर सकते हैं अपनों से बात

 



यदि हम चाहें, तो दुनिया की बड़ी से बड़ी मुश्किलें चुटकियों में हल की जा सकती हैं, आवश्यकता है तो बस सही समाधान ढूंढने की। जी हाँ, देश के अपने माइक्रोब्लॉगिंग ऐप, कू अपने यूज़र्स को एक ऐसा फीचर देता है, जो वास्तव में बेहद सराहनीय है। दिलचस्प बात यह है कि हाल-फिलहाल में इसका कोई तोड़ नहीं है, क्योंकि यह अपनी तरह का पहला फीचर है, जो किसी ऐप में दिया गया है। 


कू ऐप अपने कंटेंट में जान डालने के लिए हिंदी और अंग्रेजी के अलावा प्रमुखतः सात भाषाओं का समागम करता है। इसकी सूची में कन्नड़, तमिल, तेलुगु, मराठी, बांग्ला, असमीज़ और गुजराती भाषाएँ शामिल हैं। इतना ही नहीं, इन भाषाओं के अलावा कू ऐप और भी भाषाओं पर काम कर रहा है। यानी आगामी समय में यूज़र्स मलयालम, उड़िया और पंजाबी भाषाओं में भी बात कर सकेंगे। 


क्रिकेट का दौर हो, या एंटरटेनमेंट की झलक, त्यौहारों की शुभकामनाएँ हों, या नेता जी के भाषण, कू ऐप पर एक ही प्लेटफॉर्म पर हर क्षेत्र की चर्चाएँ लाखों यूज़र्स को एक डोर में बांधे रखती हैं। आधुनिक दुनिया में भारत का अपना माइक्रोब्लॉगिंग ऐप, सभी राज्यों को जोड़कर पूरे देश को एक बंधन में बाँधने का अटूट माध्यम बन गया है। इसे जो बात और भी अधिक खास बनाती है, वह है यूज़र के रिस्पॉन्स। यूज़र्स द्वारा इसे खूब पसंद किया जा रहा है, क्योंकि इस फीचर ने उनकी वर्षों पुरानी समस्या को क्षण भर में हल कर दिया है। 


दरअसल, यह फीचर आपकी पोस्ट को अलग-अलग भारतीय भाषाओं में कन्वर्ट करता है, जिससे यूज़र्स अपनी मातृभाषा में पोस्ट कर सकते हैं। कू ऐप के अनोखे फीचर के माध्यम से कई यूज़र्स ने लाखों फॉलोअर्स का आँकड़ा पार कर लिया है।  


यदि हम उदाहरण के तौर पर बात करें, तो सबसे पहला नाम इंडियन कॉमेंटेटर, आकाश चोपड़ा का नाम सामने आता है। इस फीचर के उपयोग से कुछ ही महीनों में आकाश ने 2 लाख से भी अधिक फॉलोअर्स वाली श्रेणी पार कर ली है। अपने फैंस से वे हिंदी और अंग्रेजी सहित कन्नड़, तेलुगु, बंगाली, मराठी और तमिल भाषाओं के माध्यम से जुड़े हुए हैं और उनसे उन्हीं की भाषा में इंटरैक्ट कर रहे हैं, जो उनके फैंस को काफी पसंद आ रहा है। इतना ही नहीं, ऐप पर कई फीचर वीडियोज़ के माध्यम से वे अपने फैंस तक अपनी आवाज़ भी पहुँचा रहे हैं, जिससे उनकी और फैंस के रिश्ते की कड़ी और भी मजबूत होती नज़र आ रही है। 


वहीं दूसरी ओर, इन सबसे अलग कू ऐप और इसके ढेरों फीचर्स निश्चित तौर पर वर्ल्ड कप की कड़ी को जोड़ने का अटूट माध्यम बनने वाले हैं, जिसका बिगुल हर दिन हमारे अपने कू ऐप पर बजाया जाएगा। इस प्रकार, ऐप पर त्यौहारों की रौनक और वर्ल्ड कप के अपडेट्स बरकरार रहेंगे।

Popular posts from this blog

आगर से भाजपा प्रत्याशी मधु गेहलोत 13002 मतों से व सुसनेर से कांग्रेस प्रत्याशी भैरूसिंह बापू 12645 मतों से जीते

ग्राम झालरा में गिरी आकाशीय बिजली:एक की मौत:एक घायल:नाना बाजार में मंदिर के शिखर का कलश गिरा

तवा भी बिगाड़ सकता है घर का वास्तु, जानिए रसोई में तवे का महत्व