डी बीयर्स ने प्रतिबद्धता और उद्देश्य को केंद्र में रखते हुए अपने नए ग्लोबल कैंपेन की घोषणा की

मुंबई, 2021 – डी बीयर्स ने खुद के लिए, एक-दूसरे के लिए और पूरी दुनिया के लिए प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए एक नए ग्लोबल कैंपेन की घोषणा की है। यह कैंपेन, सही मायने में कंपनी के 133 साल के लंबे इतिहास में एकदम नई और उद्देश्य पर आधारित ब्रांड रणनीति तथा नए अध्याय की शुरुआत का प्रतीक है।

 'आई डू', यानी 'मैं वादा करता हूँ' किसी व्यक्ति के इरादे को दर्शाने वाली सबसे अहम अभिव्यक्तियों में से एक है, जो समय की हर कसौटी पर खरी उतरती है। दिल की भावनाओं से जुड़ा और जीवन को तुरंत एक नई दिशा देने वाला यह कथन दो व्यक्तियों के बीच साथ मिलकर अपने भविष्य को संवारने के लिए किया गया वादा है, जो हमेशा कायम रहता है। डी बीयर्स के इस नए कैंपेन में इसी तरह के प्रभावशाली वादों की अहमियत पर बल दिया गया है, और इन दो खास शब्दों को नए विचार-क्षेत्र की ओर ले जाता है, तथा इन शब्दों को व्यक्तिगत स्तर पर किए गए सभी प्रकार के वादों से जोड़कर उनके अर्थ का विस्तार करता है: जिसमें प्यार, दोस्ती, परिवार, समाज, प्रकृति और बहुत कुछ शामिल है।



डी बीयर्स ग्रुप के सीईओ, श्री ब्रूस क्लीवर, कहते हैं: 'एक सदी से भी अधिक समय से, डी बीयर्स ने लोगों को अपने साथी के प्रति हमेशा कायम रहने वाले अपने वादे को ज़ाहिर करने में मदद करने में सबसे अहम भूमिका निभाई है। आज की नई पीढ़ी के उपभोक्ताओं के लिए इस वादे का दायरा और भी विस्तृत हो गया है: और वे व्यक्तिगत विकास के लिए खुद से किए गए वादे के साथ-साथ, अपनी दोस्ती, अपने परिवारों, समाज तथा प्रकृति एवं पूरी दुनिया के लिए अपनी प्रतिबद्धता ज़ाहिर करते हैं। आज 'आई डू' यानी 'मैं वादा करता हूँ' का अर्थ काफी विस्तृत हो गया है और यह पहले से कहीं ज्यादा प्रासंगिक भी है – साथ ही हीरे का प्रयोजन भी पहले से कहीं अधिक व्यापक हो गया है। 'वन डी बीयर्स' हमारा नया विज़न है जिसमें हमारे ब्रांड के उद्देश्य की मूल भावना समाहित है और उपभोक्ताओं को एक नए नजरिए के साथ इससे जुड़ने में सक्षम बनाता है। इस नए विज़न के साथ, हमें हीरे के भविष्य को आकार देने का एक रोमांचक अवसर दिखाई दे रहा है। अपने आईकॉनिक ब्रांड नाम के लिए मार्केटिंग में निवेश करने के साथ, हम उपभोक्ताओं के लिए डी बीयर्स के डायमंड्स की अहमियत का विस्तार करते हुए उसे दिल की भावनाओं से जोड़ेंगे, दुनिया में उनके सकारात्मक प्रभाव और हमारे ज्वैलरी हाउस के लिए चुने गए इन डायमंड्स की बेमिसाल खूबसूरती को उजागर करेंगे।'


कैंपेन के तहत, इन वादों के प्रतीक के रूप में ब्रांड ने अपने दो प्रतिष्ठानों, डी बीयर्स ज्वैलर्स और डी बीयर्स फॉरएवरमार्क के डायमंड ज्वैलरी की एक बड़ी रेंज पेश की गई है - जो स्थायित्व और जिम्मेदार प्रक्रियाओं के लिए कंपनी की अपनी प्रतिबद्धताओं की वजह से विशेष अहमियत रखता है। आज के दौर में उपभोक्ताओं और ब्रांडों, दोनों की नैतिकता और मूल्य सर्वोपरि हैं, और ऐसे में 'आई डू' का मतलब कार्रवाई के साथ-साथ उद्देश्य भी है। डी बीयर्स डायमंड्स पहनकर, ग्राहक इनका उपयोग बेहतर एवं उज्जवल भविष्य के लिए सच्ची लगन के साथ व्यक्तिगत तौर पर और साथ मिलकर यह जाने वाले कार्यों के प्रतीक के रूप में कर सकते हैं। 


डी बीयर्स ज्वैलर्स और डी बीयर्स फॉरएवरमार्क के सीईओ, सेलिन एसिमोन ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा: 'इस कैंपेन के साथ ही डी बीयर्स के लिए बदलाव के एक नए दौर की शुरुआत हुई है, साथ ही यह उद्देश्य पर आधारित कंपनी बनने की हमारी निरंतर प्रतिबद्धता का मार्ग प्रशस्त करता है। हमारे दोनों ज्वैलरी हाउस बेहद प्रभावशाली ब्रांड्स हैं, जिन्हें गर्व है कि वे दुनिया भर के लोगों द्वारा किए गए वादों में हमेशा उनका साथ निभाते हैं, क्योंकि ऐसे वादे उनके लिए सबसे ज्यादा मायने रखते हैं। जिन स्थानों पर हमारे हीरे पाए जाते हैं, हम उन जगहों पर सकारात्मक प्रभाव पैदा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, साथ ही उन हीरों के पूरे सफर के दौरान साथ जुड़ने वाले सभी लोगों के लिए भी प्रतिबद्ध हैं।"

कविता की शैली में तैयार किए गए और दिल को छूने वाले इस मल्टी-चैनल कैंपेन की शूटिंग मुख्य रूप से आउटडोर लोकेशन, जंगलों में, खुले मैदानों में और समुद्र के किनारे की गई है। इसकी कास्टिंग में विविधता है जिसमें एक-दूसरे के प्रति समर्पित जोड़ों के अलावा अलग-अलग व्यक्तियों को भी शामिल किया गया है, साथ ही वादों के लिए इसमें विभिन्न प्रकार के शब्दचित्रों को दर्शाया गया है। इसका मुख्य संदेश, खुद के प्रति वफादार रहना, कभी समझौता नहीं करना, अपनी आस्था के लिए संघर्ष करना और प्रकृति का जश्न मनाना जैसे विभिन्न विषयों पर केंद्रित है। यह कैंपेन डी बीयर्स और पूरी दुनिया में मौजूद इसकी कम्युनिटी के दिल में बसे सिद्धांतों के अनुरूप है: यानी अच्छाई और लोगों की भलाई के लिए नई खोज करना, सभी लोगों को साथ लेकर आगे बढ़ना, तथा पर्यावरण एवं लोगो के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाना।

इस कैंपेन के फोटोग्राफर एवं डायरेक्टर, जोनास लिंडस्ट्रोम ने कहा: 'मुझे इस कैंपेन में यह बात सबसे ज्यादा पसंद आई कि इसका कॉन्सेप्ट बेहद सरल होने के साथ-साथ लगातार आगे बढ़ने वाले आधुनिक विचारों से प्रेरित है, जो दर्शाता है कि आज के जमाने में किसी चीज़ के लिए प्रतिबद्ध होने का क्या मतलब है। इस कैंपेन में हमने ब्रांड के इतिहास के माध्यम से खुद को, किसी व्यक्ति को, किसी चीज़ के लिए – 'हाँ' कहने के विचार पर नई रोशनी डालने का प्रयास किया है। हमने पारंपरिक सोच को तोड़ने की कोशिश की है। इसमें विविधता और नए आदर्शों को प्रदर्शित किया गया है। प्यार को एक ऐसी चीज़ के रूप में स्वीकार किया गया है जो खूबसूरती कहीं बढ़कर है, और जब तक प्यार आपके लिए मायने रखती है तब तक इसके अर्थ की कोई सीमा नहीं है। मैं बेहद खुश हूँ कि मुझे इन विचारों को अमल में लाने का अवसर मिला, जिन्हें हम असली, जीवंत, मूर्त और सच्चे स्वरूप में महसूस करना चाहते थे। फिल्म और फोटोग्राफी में कैद किए वास्तविक दृश्य, सही मायने में असली किरदारों, सच्ची भावनाओं, भावनाओं, एवं अनुभूति से भरी एक कहानी बयां करते हैं।' 


यह कैंपेन डी बीयर्स के 'वन ब्रांड, टू हाउसेस' के एकदम नए विज़न को प्रस्तुत करता है। अब डी बीयर्स ज्वैलर्स और डी बीयर्स फॉरएवरमार्क एक ही छत के नीचे साथ मिलकर काम करते हैं, जो पूरी तरह से एकीकृत, उपभोक्ता-केंद्रित और उद्देश्य पर आधारित ब्रांड बनने के लिए किए गए बदलाव का प्रतीक है। दोनों प्रतिष्ठानों के विभिन्न प्रकार के आभूषणों की पूरी रेंज ग्राहकों के लिए उपलब्ध है, जहां उन्हें डी बीयर्स ब्रांड की प्रतिष्ठा का आश्वासन प्राप्त होगा, जो हमेशा से सही मायने में अहमियत रखने वाले वादों के साथ खड़ा है, तथा दुनिया की सबसे बड़ी डायमंड कंपनी के सर्वश्रेष्ठ हीरों से सुसज्जित और समय की कसौटी पर खरे आभूषणों की बिक्री कर रहा है। 


डी बीयर्स "बिल्डिंग फॉरएवर" के अपने वादे पर कायम है — जो यह सुनिश्चित करता है कि उनके हीरे लोगों के जीवन के साथ-साथ इस धरती को सकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं। "बिल्डिंग फॉरएवर" दरअसल बेहतर भविष्य के लिए कंपनी का ब्लूप्रिंट है, जो पहले से कई गुना बेहतर, सुरक्षित, स्वच्छ और स्वस्थ है, जहां समुदायों का विकास होता है और पर्यावरण की रक्षा होती है। इसके चार प्रमुख स्तंभ हैं: नैतिकता पर आधारित बेहतर कार्य-प्रणाली, समुदायों की समृद्धि के लिए भागीदारी, अवसरों की समानता में तेजी लाना और प्राकृतिक दुनिया की रक्षा करना।