तुला राशि के जातकों के लिए 2022 करियर के दृष्टिकोण से यह काफी औसत साबित होगा

 



पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डा.अनीष व्यास ने बताया कि तुला राशि वालों के लिए यह साल पारिवारिक दृष्टिकोण से मिलाजुला रहेगा। 13 अप्रैल 2022 को बृहस्पति मीन राशि में प्रवेश करेंगे जो तुला राशि के छठे भाव में स्थापित होंगे। गुरु की यह स्थिति आपके लिए अनुकूल रहेगी। जब बृहस्पति की नवम दृष्टि तृतीय भाव में पड़ेगी जिसके कारण पैतृक संपत्ति मिलने के योग बन रहे हैं। साथ ही व्यय भी होगा। 29 अप्रैल 2022 को शनि कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे जो अनबन की स्थिति पैदा कर सकते हैं। 12 जुलाई 2022 को शनि वक्री होकर पुन: मकर राशि में प्रवेश करेंगे जिसके फलस्वरूप आप अपने घर की मरम्मत करवा सकते हैं। इस समयावधि में अपनी माता का ख्याल रखें और उनकी सेहत का ध्यान रखें। इस समय किराएदार आपको परेशान कर सकते हैं इसलिए अपनी प्रॉपर्टी को किराए पर देने से पहले सावधानी बरतें और कागजी कार्यवाही पूर्ण होने के बाद ही किराए पर दें। 29 जुलाई 2022 को बृहस्पति वक्री होंगे और बृहस्पति की यह स्थिति आपके घर में मांगलिक कार्य करवाएगी। जिसके फलस्वरूप घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होगा। वहीं 12 जुलाई 2022 को शनि वक्री होकर पुन: मकर राशि में चले जाएंगे। शनि के गोचर की यह स्थिति इस साल आपको आपके परिवार से दूर रहने को मजबूर करेगी। इस साल व्यापारिक यात्राओं की वजह से आप अपने परिवार के साथ ज्यादा वक्त नहीं बिता पाएंगे और खुद को अकेला महसूस करेंगे।



कैरियर

ज्योतिषाचार्य डा.अनीष व्यास ने बताया कि तुला राशि के जातकों के लिए करियर के दृष्टिकोण से यह काफी औसत साबित होगा। तुला राशि के पेशेवर जातकों के लिए करियर के लिहाज़ से साल औसत से अच्छा रहने वाला है। आप साल के पहले कुछ महीनों के दौरान पदोन्नति की उम्मीद कर सकते हैं। साल का दूसरा भाग करियर के लिहाज़ से काफी चुनौतीपूर्ण हो सकता है; इसलिए सहकर्मियों और वरिष्ठों के साथ अच्छे संबंध रखने की सलाह दी जाती है। जो लोग नौकरी या काम बदलने का विचार हैं, उन्हें अपनी वर्तमान नौकरी छोड़ने से पहले और नई नौकरी में शामिल होने से पहले उचित विश्लेषण और शोध कर लेने की सलाह दी जाती है। इस साल फ्रेशर्स को उनकी मनचाही और अच्छी नौकरी मिलने की भी संभावना है। व्यापारिक रूप से या वर्ष पिछले वर्ष की अपेक्षा काफी बेहतर रहेगा और आप व्यापार में भी आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे।12 जुलाई 2022 को शनि व्रकी होकर पुन: मकर राशि में प्रवेश करेंगे। यह समयावधि व्यापारी वर्ग के लिए अच्छी रहेगी। हालांकि आपको नया व्यापार करने से बचना होगा। इस समयावधि में निवेश करना आपके लिए लाभकारी होगा। 23 मई 2022 को शुक्र मेष राशि में प्रवेश करेंगे, जो तुला राशि के सप्तम भाव में विराजमान होंगे। यहां से शुक्र प्रथम भाव में दृष्टि डालेंगे, जो उनका खुद का घर है। शुक्र की यह स्थिति व्यापारियों को उनके क्षेत्र में मान-सम्मान दिलाएगी और आपके गुप्त शत्रु परास्त होंगे। साल 2022 में शुक्र केंद्र स्थान, नवम, पंचम और एकादश भाव में गोचर करके विराजमान होंगे तो तुला राशि वालों को लाभ मिलेगा। यह समय नवीनीकरण के लिए उत्तम रहेगा।

आर्थिक स्थिति

वर्ष के शुरुआत आपके आर्थिक जीवन के लिए अच्छा रहेगा। जनवरी से अप्रैल तक धन का प्रवाह निरंतर बना रहेगा। इस साल आपके लिए आय का कोई नया स्रोत नहीं आने वाला है। कुलमिलाकर इस वर्ष आपको अपने खर्चों पर विशेष रूप से नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है। विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा.अनीष व्यास ने बताया कि अप्रैल से सितंबर तक का समय आपको धन लाभ की प्राप्ति के लिए बहुत उत्तम कहा जाएगा। उसके साथ ही कुछ खर्चे संभव है और विशेष तौर से सितंबर के महीने में आप दिल खोलकर खर्च करते नजर आएंगे। ऐसे में आपको अपने धन को संचय करने और अपने खर्चों पर लगाम लगाने की आवश्यकता पड़ेगी अन्यथा आर्थिक तंगी से जूझना पड़ सकता है। यह वर्ष तुला राशि के जातकों के लिए वाहन खरीदने और बेचने के लिए फलदायी साबित हो सकता है। यदि आप अपने लिए संपत्ति खरीदने की कोशिश करेंगे तो आप सफल हो सकते हैं। लेकिन जो संपत्ति आपको विरासत में मिली है उसे बेचने के लिए समय अनुकूल नहीं कहा जा सकता है। आपको कोई भी फैसला लेने से पहले परिवार की स्थिरता पर ध्यान से विचार करना चाहिए, और आपको किसी भी जटिल संपत्ति सौदों से बचना चाहिए अन्यथा आपको इसका नुकसान उठाना पड़ सकता है। इस साल जमीन, भवन और वाहन खरीदने की भी संभावना है। शनि और बृहस्पति के गोचर के फलस्वरूप आप पारिवारिक सुख-सुविधाओं, भूमि,भवन निर्माण, और वाहनों में निवेश कर सकते हैं, और अप्रैल का महीना आपके लिए अधिक अनुकूल समय साबित होगा।

परिवार

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा.अनीष व्यास ने बताया कि यह वर्ष आपके परिवार के लिए अनुकूल रहने वला है। आपके परिवार और समुदाय के साथ संबंधों में सुधार होगा, और आप उनके प्रति या स्थानीय समुदाय में अच्छा महसूस करेंगे। आप में से कुछ लोग अपने घर को बेहतर बनाने और अपने परिवार को खुश रखने के लिए कोई महत्वपूर्ण कदम उठा सकते हैं, जिससे यह और अधिक आकर्षक हो जाएगा। आप इस अवधि में संपत्ति में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। वर्ष की शुरुआत बच्चों के दृष्टिकोण के लिए अनुकूल रहने वाली है क्योंकि इस दौरान पंचम भाव पर बृहस्पति की शुभ दृष्टि है, जिससे बच्चों का ध्यान पढ़ाई में ज्यादा बढ़ेगा। यदि आपके बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं, तो वे इस दौरान किसी जाने-माने और प्रतिष्ठित संस्थान में प्रवेश ले सकते हैं। कुल मिलाकर आपकी संतान को इस साल सफलता हासिल होगी। यदि आपका बच्चा विवाह योग्य आयु का है, तो इस वर्ष उनकी शादी भी होने की संभावना है। साल का दूसरा भाग औसत रहेगा क्योंकि इस अवधि में आप अपने बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हो सकते हैं। आपके परिवार और रिश्तेदारों के साथ संबंधों में सुधार होगा और आप उनके अच्छा महसूस करेंगे। साल का प्रारंभ पारिवारिक जीवन के लिए ज्यादा अनुकूल नहीं रहने वाला है। इस दौरान आपको किसी कारण अपने घर से दूर जाना पड़ेगा इसके साथ ही काम की अधिकता के चलते परिवारिक पूरी या परिवार में सामंजस्य की कुछ कमी के योग बनेंगे, जिससे परिवार में मनमुटाव संभव है, लेकिन वर्ष का उत्तरार्ध भाग परिवारिक संबंधों के दृष्टिकोण से बहुत अच्छा जीतने वाला है।

प्रेम - रोमांस

तुला राशि का जीवन कुछ हद तक सुचारू रूप से चल सकता है। तुला राशि के जो जातक अपने प्रेम संबंध को लेकर गंभीर हैं वो इस साल शादी के बंधन में बंध सकते हैं। जो जातक सिंगल हैं और किसी के साथ रिश्ते में आना चाहते हैं उन्हें इस वर्ष कामयाबी मिल सकती है। विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा.अनीष व्यास ने बताया कि विवाहित जातकों के जीवन में भी प्रेम और शांति बनी रहने वाली है। अपने साथी के प्रति कठोर वाणी और बुरा व्यवहार करने से बचने की कोशिश करें और उनके प्रति सम्मान और समझ दिखाएं। वर्ष 2022 में एक अच्छे और स्वस्थ रिश्ते का आनंद लेने के लिए यह सबसे शानदार तरीका साबित हो सकता है। साल की शुरुआत में आपको जीवनसाथी का भरपूर सहयोग प्राप्त होगा। वर्ष मध्य के दौरान आपको ज्यादा से ज्यादा सतर्क और सावधान रहने की सलाह दी जाती है क्योंकि इस अवधि के दौरान आपके सप्तम भाव पर गोचर का प्रभाव दिखाई देगा, और आपके जीवनसाथी के साथ बहस होने की आशंका है। वहीं वर्ष के अंत में मंगल का स्थान परिवर्तन, आप भविष्य में सभी संदेहों को दूर करने, सभी विवादों और गलतफहमी को दूर करने में मददगार साबित होगा जिससे आप एक दूसरे पर विश्वास और प्रेम के साथ अपना जीवन व्यतीत करेंगे।

शिक्षा

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा.अनीष व्यास ने बताया कि इस समय आप का मन पढ़ाई में अधिक लगेगा जिससे आप अपना अच्छा प्रदर्शन कर अपने शिक्षकों का दिल जीत पाने में सफल होंगे यदि आप कुछ शिक्षा ग्रहण करने का सोच रहे हैं तो उसके लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा। आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे परंतु प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को इस समय भी अपनी मेहनत जारी रखने होगी। तुला राशि के छात्रों को शानदार परिणाम मिलने की प्रबल संभावना बनती नजर आ रही है। यह वर्ष प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए एक अच्छा वर्ष हो सकता है। जो छात्र आगे की पढ़ाई के लिए विदेश जाना चाहते हैं उन्हें जनवरी से जून के बीच शुभ समाचार मिल सकता है। यह वर्ष आपके आने वाले करियर के लिए भी एक महत्वपूर्ण वर्ष है। आपको कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता होगी और अच्छे परिणाम की उम्मीद कर सकते हैं।

स्वास्थ्य

इस वर्ष आपको विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होगी अन्यथा कोई रोग आपको परेशान कर सकता है ऐसे में आपके लिए बेहतर होगा कि अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए ही हर प्रकार की छोटी-मोटी समस्याओं से अपने शरीर का बचाव करें मौसम के बदलाव से पैदा होने वाली बीमारियों के प्रति सतर्क रहें। विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा.अनीष व्यास ने बताया कि पाचन और वायरल संक्रमण से संबंधित रोग आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकते हैं, हालांकि यह समस्या लंबे समय तक नहीं टिकने वाली है। आपको व्यायाम करने और अपने शरीर की फिटनेस और वजन पर पूरा नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है।  इस वर्ष आपको चोट लगने की भी आशंका है; इसलिए आपको व्यायाम करने और अपने शरीर की फिटनेस और वजन पर पूरा नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है। अच्छा मानसिक स्वास्थ्य बनाए रखने और तनाव से बचने के लिए अपनी पसंद की गतिविधियों को अपने जीवन में शामिल करें।

ज्योतिष उपाय

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा.अनीष व्यास ने बताया कि काले रंग की वस्तुएँ दान में दें। मंगलवार को हनुमान जी को चोला चढ़ाएं। गाय की सेवा करें।  कन्याओं के पैर छूकर उनका आशीर्वाद प्राप्त करें।