सनसनीखेज अंधे कत्ल का पर्दाफाश:प्रेम संबंध के कारण पत्नी के जियाजी को उतारा था मौत के घाट:सुहागरात के दिन ही मृतक ने आरोपी से कहा था उससे दूर रहना

 आगर मालवा- 1 दिसंबर 2021  की रात को ग्राम निपानिया बैजनाथ में सनसनीखेज हत्याकांड घटित हुवा था। मृतक नूर मोहम्मद पिता उस्मान खॉन उम्र 44 साल की अज्ञात व्यक्ति द्वारा धारदार हथियार से गोद कर हत्या कर दी थी। उक्त सनसनीखेज घटना से क्षेत्र में भय व्याप्त हो गया था। घटना के बाद तत्काल थाना कोतवाली पर अपराध क्रमांक 880/2021 धारा 302 भादवि का अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध कायम किया गया था



  घटना को गंभीरता पूर्वक लेते हुए पुलिस महानिरीक्षक उज्जैन झोन संतोष कुमार सिंह एवं पुलिस उप महानिरीक्षक उज्जैन रेंज द्वारा घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने हेतु निर्देशित किया गया। जिस पर पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सगर के कुशल निर्देशन में अपराध अनुसंधान एवं अज्ञात आरोपी की पतारसी हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  नवलसिंह सिसोदिया के मार्ग दर्शन में पुलिस टीम गठित की गई। थाना प्रभारी कोतवाली  रणजीत सिंगार के नेतृत्व में पुलिस टीमको घटना के खुलासे हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये थे।


वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशानुसार पुलिस टीम द्वारा मृतक के बारे जानकारी एकत्रीत की गई। जिससे ज्ञात हुआ कि मृतक द्वारा तीन शादिया की गई थी।तिसरी शादी गंगापुर की रानी पिता वकील खाँ से हुई थी। जिससे मृतक के चार बच्चे है। शादी के बाद मृतक पत्नि के साथ ससुर के घर ग्राम गंगापुर लगभग तीन से चार साल घर जमाई रहा उसके बाद वह अपने गांव निपानिया बैजनाथ में आकर रहने लगा था। मुखबिर सूचना एवं तकनिकी अनुसंधान से यह स्पष्ट हो गया था कि मृतक नूर मोहम्मद के ग्राम गंगापुर रहते समय उसकी साली जरिना बी से प्रेम संबंध थे। जरिना बी की नवंबर 2020 में सोहेल पिता इब्राहिम पठान उम्र 22 साल निवासी बडौद से शादी हुई थी। सोहेल पठान निकाह के बाद पत्नि को घर ले कर आया तभी सुहागरात वाली रात को मृतक ने आरोपी को फोन लगाकर बोला था कि तेरी पत्नि को मैने रख रखी है तु उससे दुरी बनाये रखना वरना ठीक नहीं होगा जिससे आरोपी सोहेल ने उसी रात से मन ही मन में यह सोच लिया था कि किसी ना किसी दिन मौका पाकर मृतक नूरमोहम्मद को मोत के घाट उतार दूंगा | घटना दिनांक से पूर्व मृतक एवं आरोपी सोहेल पठान दोनों की पत्निया आरोपी सोहेल के बेटे के झुला डालने के कार्यक्रम में ग्राम गंगापुर गई हुई थी।आरोपी द्वारा

अपनी पत्नि जरिना बी से फोन पर बात करने से यह शंका हुई कि मृतक व उसके बच्चे सभी गंगापुर में ही होंगे  जिस पर आरोपी सोहेल दिनांक 30 नवंबर .2021 को गंगापुर गया वहा उसने देखा की मृतक नूर मोहमद नहीं  आया था जिससे आरोपी को यह ज्ञात हो गया था कि मृतक नूर मोहम्मद उसके घर ग्राम निपानिया बैजनाथ में अकेला ही होगा । आरोपी द्वारा अपने साथी भाई जाफर पिता मुबारिक खॉन उम्र 22 वर्ष निवासी बडौद के साथ योजना बद्ध तरिके से ग्राम  निपानिया बैजनाथ पहुंचकर रेकी कर मृतक को उसके घर जाकर गुप्ती एवं छुरी से गोद कर आरोपियों ने सनसनी खेज हत्या कर दी।  घटना को अजाम देने के बाद आरोपियों ने धारदार हथियार बड़ौद के रास्ते में पुलिया के निचे फेंककर अपने बदन पर पहने खुन से सने कपड़े बडौद पहुंचकर अपनी गैरेज की दुकान के सामने जला दिये  एवं मोटर साईकल एक गेरेज में रख दी थी


यह आरोपी हुवे गिरफ्तार 

गिरफ्तार आरोपी सोहेल पिता इब्राहिम उर्फ अब्बु पठान उम्र 22 साल निवासी बड़ौद व जाफर उर्फ टीपु पिता मुबारिक उर्फ बारी खान उम्र 22 वर्षनिवासी बडौद थाना बड़ौद है।

 हथियार व गुप्ती बरामद 

पुलिस ने आरोपियों के पास से लोहे की गुप्ती, एक लोहे की छुरी, एक मोटरसाईकल एक जेकेट तथा एक हाथ का ग्लब्स बरामद किया है।


इनकी रही सराहनीय भूमिका 

  निरीक्षक  रणजीत सिंगार, उप निरीक्षक जितेन्द्र सिंह चौहान (सायबर सेल आगर), सउनि सरदारसिंह परमार (पुलिस सहा केन्द्र तनोडिया), सउनि अजय कुमार सुर्यवंशी, सउनि चन्दरसिहं खुजरिया प्र.आर. 119 विवेक सिंह चौहान आर. 218 रविशंकर चावला, आर. 31 शिवम यादव, आर. 269 शिवम सोनी, आर. चालक पुष्पेन्द्रसिंह आर. तुफानसिंह, आर हरिओम की अंधे कत्ल के खुलासे में सराहनीय भूमिका रही।

10 हजार का इनाम था घोषित

 उक्त सनसनीखेज वारदात  के खुलासे हेतु पुलिस अधीक्षक द्वारा 10 हजार के ईनाम की घोषणा की गई थी।


क्राइम पेट्रोल देखकर बनाईबचने की युक्ति 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी काफी शातिर है। उसने यह जान लिया था कि मृतक घर पर अकेला है इसीलिए उसने अपना मोबाइल बंद किया और अपराध करने के लिए अपने साथी के साथ निपानिया पहुंच गया।  घटना को अंजाम देने के  बाद आरोपी बडौद पहुंचे और पुनः अपना मोबाइल चालू कर लिया।पुलिस से बचने के लिए आरोपी ने शातिरआना अंदाज में कार्य जरूर किया मगर पुलिस के अनुसंधान के आगे वह बच नहीं सके। अपराध करने के बाद पुलिस से बचा कैसे जाता है यह आरोपी ने क्राइम पेट्रोल देखने के बाद युक्ति इजाद की।


परिजनों व ग्रामीणों ने किया पुष्प वर्षा कर किया स्वागत



मृतक के परिजनों व ग्रामीणों द्वारा आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर पुष्प वर्षा कर पुलिस कप्तान राकेश कुमार सागर एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नवल सिंह सिसोदिया सहित अन्य पुलिसकर्मियों का स्वागत किया। इस दौरान पूर्व जनपद सदस्य विजय कुमार पटेल सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण जन मौजूद थे।