उत्कृष्ठ विद्यालय में पिछले एक वर्ष से प्रयोगशाला बंद:धरने पर बैठे एनएसयूआई राष्ट्रीय सचिव

 आगर मालवा-एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव अंकुश भटनागर को छात्रों ने अपनी समस्या बताई थी।इस पर तत्काल कार्यकर्ता के साथ विद्यालय में पहुँचकर प्राचार्य से चर्चा की।

 भटनागर ने बताया कि उत्कृष्ठ विद्यालय में 10 वी व 12 वी के छात्रों की बोर्ड परीक्षा की घोषणा हो चुकी है ऐसे में छात्रों की प्रयोगिक परीक्षा भी होनी है परंतु पिछले 1 वर्ष से प्रयोगशाला बंद है।  9 वी व 10 वी के छात्रों की कक्षा का समय बदलते हुए प्रातः 9 बजे से कर प्रत्येक कक्षा का समय 30 मिनट कर दिया गया। जबकि 45 मिनट की एक कक्षा होती है। प्राचार्य से चर्चा करने पर बताया गया कि कलेक्टर महोदय के आदेश पर केंद्रीय विद्यालय के संचालन के लिए स्कूल की बिल्डिंग दी गई है। इस कारण प्रयोगशाला का उपयोग नही हो पा रहा है। अनुविभागीय अधिकारी ने  दूरभाष पर चर्चा के बाद जिला शिक्षा अधिकारी अनिल कुशवाह मौका स्थल पर पहुँचे व चर्चा की ।एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव अंकुश भटनागर ने बताया कि केंद्रीय विद्यालय के छात्र भी भवन की कमी के चलते काफी परेशानी का सामना कर रहे हैं। 


उत्कृष्ट विद्यालय के भवन को केंद्रीय विद्यालय के संचालन के लिए 9 भवन दे दिए गए जिस से उत्कृष्ट विद्यालय के छात्र प्रयोगशाला का उपयोग नही कर पा रहे हैं साथ ही कक्षा का समय परिवर्तन कर ठंड में बच्चो को सुबह जल्दी बुलाया जा रहा है। साथ ही 1 सेक्शन का समय 45 मिनट का होता है उसको कम कर 30 मिनट ही लगाया जा रहा है ऐसे में जिला प्रशासन द्वारा बच्चो की शिक्षा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। यदि बोर्ड परीक्षा में बच्चे फैल होते है तो उसका जिम्मेदार कौन होगा? जिला शिक्षा अधिकारी ने स्कूल का सभी निरक्षण कर स्वीकार किया कि प्रयोगशाला का सही संचालन भवन की कमी के कारण नही हो पा रहा है।