पोस्को और अदाणी ग्रुप गुजरात के मुंद्रा में हरित, पर्यावरण-अनुकूल इंटीग्रेटेड स्टील मिल की करेंगे स्थापना


अहमदाबाद: जनवरी 2022: पोस्को और अदाणी ग्रुप गुजरात के मुंद्रा में हरित, पर्यावरण-अनुकूल इंटीग्रेटेड स्टील मिल की स्थापना के साथ-साथ अन्य व्यवसायों सहित व्यापार सहयोग के अवसरों का पता लगाने के लिए सहमत हुए हैं। इसके लिए 5 अरब अमेरिकी डॉलर तक का निवेश होने का अनुमान है।



पोस्को और अदाणी के बीच हस्ताक्षरित गैर-बाध्यकारी समझौता ज्ञापन, कार्बन कटौती की आवश्यकताओं के जवाब में अक्षय ऊर्जा, हाइड्रोजन और लॉजिस्टिक्स जैसे विभिन्न उद्योगों में समूह व्यापार स्तर पर आगे सहयोग करने का इरादा रखता है।


दोनों पक्ष सहयोग करने और प्रत्येक कंपनी की तकनीकी, वित्तीय और परिचालन शक्तियों का लाभ उठाने के लिए विभिन्न विकल्पों की जांच कर रहे हैं।


इस सहयोग में पोस्को की अत्याधुनिक तकनीक और अग्रणी आरएंडडी क्षमता के आधार पर मुंद्रा, गुजरात में एक संयुक्त इंटीग्रेटेड स्टील मिल का मूल्यांकन शामिल है। पोस्को और अदाणी, दोनों भागीदारों की स्थिरता और ऊर्जा दक्षता के लिए ईएसजी प्रतिबद्धताओं के अनुरूप अक्षय ऊर्जा संसाधनों और हरित हाइड्रोजन का उपयोग करने का इरादा रखते हैं।


पोस्को के सीईओ श्री जियोंग-वूचोई ने कहा कि “पोस्को और अदाणी, स्टील और पर्यावरण-अनुकूल व्यवसाय में शानदार तालमेल बनाने में सक्षम हैं, जिसके लिए स्टील निर्माण मेंपोस्को की अत्याधुनिक तकनीक और ऊर्जा एवं बुनियादी ढांचे में अदाणी की विशेषज्ञता की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। मुझे उम्मीद है कि यह सहयोग भारत और दक्षिण कोरिया के बीच एक अच्छा और टिकाऊ व्यापार सहयोग मॉडल साबित होगा।”





1988 में स्थापित अदाणीग्रुप, भारतमेंविविधव्यवसायोंकासबसेबड़ाऔरसबसेतेजीसेबढ़नेवालापोर्टफोलियोहै,जिसकी रुचि लॉजिस्टिक्स (बंदरगाह, हवाई अड्डे, शिपिंग और रेल), संसाधन, बिजली उत्पादन और वितरण, अक्षय ऊर्जा, गैस और बुनियादी ढांचे, और अन्य क्षेत्रों में है। अदाणी ने हाल ही में दुनिया की सबसे बड़ी अक्षय ऊर्जा कंपनी बनने और भविष्य में हरित हाइड्रोजन का उत्पादन करने के लिए बड़े पैमाने पर निवेश योजना की घोषणा की है।


अदाणी ग्रुप के चेयरमैन श्री गौतम अदाणीने कहा कि “हमें स्टील उत्पादन और कार्बन कटौती में दुनिया के सबसे कुशल और उन्नत स्टील निर्माता, पोस्को के साथ साझेदारी की घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है। यह साझेदारी भारत कीमैन्यूफैक्चरिंग इंडस्ट्री के विकास और भारत सरकार द्वारा संचालित आत्मनिर्भर भारत योजना में योगदान देगी। यह हरित व्यवसायों में भारत की स्थिति को मजबूत करने में भी मदद करेगी।”


पोस्को भारत में पोस्को-महाराष्ट्र का परिचालन करता है, जो सबसे उन्नत ऑटोमोटिव स्टील आपूर्तिकर्ता के रूप में माना जाने वाला 1.8 मिलियन टन का कोल्ड रोल्ड और गैल्वेनाइज्ड मिल है। इसके अलावा, पोस्को पुणे, दिल्ली, चेन्नई और अहमदाबाद में चार प्रसंस्करण केंद्र भी संचालित करता है। यह उम्मीद की जाती है कि पोस्को और अदाणी के बीच यह व्यापारिक सहयोग भारतीय स्टील इंडस्ट्री में प्रमुख भागीदारी तालमेल प्रस्तुत करेगा।


पोस्को के बारे में

पोस्को दक्षिण कोरिया का सबसे बड़ा स्टील उत्पादक है, और लगातार 12 वर्षों से 'द वर्ल्ड्स मोस्ट कॉम्पिटिटिव स्टीलमेकर' के रूप नामांकित है। पोस्कोकी मौजूदगी व्यापार, बुनियादी ढांचे, ईवी सामग्री, रसायन और ऊर्जा जैसे गैर-स्टील क्षेत्रों में है। पोस्को ने हाल ही में 2050 तक कार्बन न्यूट्रल होने की घोषणा की है, और उत्पादन से लेकर अनुप्रयोग तक हाइड्रोजन आपूर्ति श्रृंखला में सक्रिय रूप से शामिल होने के साथ-साथ इसकी योजना धीरे-धीरे अपने उत्पादन को हाइड्रोजन-आधारित स्टील निर्माण में बदलने की है। अधिक जानकारी के लिए www.posco.comदेखें। 


अदाणीग्रुप के बारे में

अदाणीग्रुप भारत में विविध व्यवसायों का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से बढ़ने वाला पोर्टफोलियो है, जिसमें लॉजिस्टिक्स (बंदरगाह, हवाई अड्डे, रसद, शिपिंग और रेल), संसाधन, बिजली उत्पादन और वितरण, अक्षय ऊर्जा, गैस और इंफ्रास्ट्रक्चर, एग्रो (वस्तुएं, खाद्य तेल, खाद्य उत्पाद, कोल्ड स्टोरेज और अनाज सिलोस), रियल एस्टेट, सार्वजनिक परिवहन इंफ्रास्ट्रक्चर, उपभोक्ता वित्त एवं रक्षा, और अन्य क्षेत्र शामिल हैं। अदाणी ग्रुप का मुख्यालय अहमदाबाद, भारत में है। अदाणी अपनी सफलता और नेतृत्व की स्थिति का श्रेय 'राष्ट्र निर्माण' और 'अच्छाई के साथ विकास' के अपने मूल दर्शन को देते हैं, जो सतत विकास के लिए एक मार्गदर्शक सिद्धांत है। अदाणी ग्रुप स्थिरता, विविधता और साझा मूल्यों के सिद्धांतों के आधार पर अपने सीएसआर कार्यक्रमों के ज़रिये पर्यावरण की रक्षा और समुदायों की बेहतरी के लिए प्रतिबद्ध है। अधिक जानकारी के लिएwww.adani.comदेखें।


मीडिया के सवालों के लिए: रॉय पॉल I roy.paul@adani.com