गौशाला की अनुदान राशि के लिए परियोजना अधिकारी और सचिव मांग रहे थे 60 हजार:दोनो रंगेहाथों पकड़े गए:जनपद पंचायत में मचा हड़कंप

 आगर मालवा-आगर जनपद के सहायक परियोजना अधिकारी व पंचायत सचिव आज  गौशाला की अनुदान राशि जारी करने के एवज में रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़े गए।लोकायुक्त की कार्यवाही से पंचायत महकमे में हड़कंप मच गया।



 मिली जानकारी के अनुसारआवेदक भूपेन्द्र शर्मा निवासी चाचा खेड़ी से साठ हज़ार  की रिश्वत मांगी थी।आवेदक द्वारा दिनांक 17 मई 22 को लोकायुक्त उज्जैन एसपी अनिल विश्वकर्मा को आवेदन प्रस्तुत कर शिकायतक की थी कि उसका ग्राम पंचायत परसूखेसडी की गौशाला संचालन हेतु वर्ष 2021 में 2 साल का अनुबंध हुआ है। अनुबंध के कुछ माह बाद से ही गौशाला संचालन हेतु मिलने वाली राशि  जारी करने हेतु पंचायत सचिव अश्फ़ाक कुरैशी व एपीओ अनूप चौहान लगातार रिश्वत की माँग कर रहें है।
आज मंगलवार को आगर जनपद के एपीओ अनूप चौहान को 20 हजार एवं सचिव ग्राम पंचायत परसूखेड़ी अश्फ़ाक कुरैशी को 40 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़े गए। लोकायुक्त उज्जैन के डीएसपी सुनील तालान, निरीक्षक राजेंद्र वर्मा व आरक्षक नीरज , संजय,हितेश , श्याम शर्मा , सुनील परसाई  महेंद्र जाटव द्वारा यह कार्यवाही की गई।