29 वर्षों की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए गरोठ में फिर छिड़ी बेशकीमती कविताओं की तान

 


गरोठ, 14 अक्टूबर, 2022: 'कविता..', नाम मात्र ही कर्ण पटल पर पड़ जाने से कला प्रेमियों का रोम-रोम खिल उठता है। ऐसे में यदि प्रत्यक्ष रूप से कतार में एक के बाद एक कई कविताएँ सुनने को मिल जाएँ, तो इसे सोने पर सुहागा कहना गलत नहीं होगा। कविताओं की अनूठी तानों की सौगात मध्यप्रदेश के गरोठ में पोरवाल नवयुवक मण्डल एवं गरोठ युवा मंच द्वारा देखने को मिली, जिसके तत्वाधान में 14 अक्टूबर को 30वाँ अखिल भारतीय विराट कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। पंकज सेठिया, अध्यक्ष; संजय गुप्ता, कोषाध्यक्ष; लक्ष्मीनारायण मांदलिया, सचिव तथा जगदीश अग्रवाल, संयोजक के रूप में उपस्थित रहे। 


हास्य कवि और मंच संचालक श्री संदीप शर्मा, धार के नेतृत्व में देश के विभिन्न कवियों ने खूब तान छेड़ी और कविता प्रेमियों का दिल जीत लिया। इन होनहार कवियों में श्री सुरेश अलबेला, लॉफ्टर शो विजेता, मुम्बई- हास्य सम्राट; श्री शंभू शिखर, अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त हास्य कवि, मधुबनी; गौरी मिश्रा, श्रृंगार, नैनीताल, उत्तराखण्ड; श्री राम भदावर, ओजस्वी कवि, इटावा (उ.प्र.); श्री अजय अंजाम, वीर रस, औरेया (उ.प्र.); श्री अमन अक्षर, कवि एवं बॉलीवुड गीतकार, इंदौर (म.प्र.); श्री चेतन चर्चित, हास्य हंगामा, नई दिल्ली तथा श्री वैभव वंदन, गीतकार (ओज-श्रृंगार), ग्रेटर नोएडा शामिल रहे। 


गरोठ में कला प्रेमियों और कवि सम्मेलन के अद्भुत इतिहास को लेकर कवि संदीप शर्मा कहते हैं, "कविताओं और इसके प्रति अटूट प्रेम रखने के मामले में गरोठ किसी पहचान का मोहताज़ नहीं है। हाल ही में हुआ 30वाँ अखिल भारतीय विराट कवि सम्मेलन गरोठ में कविताओं के असाधारण इतिहास का बड़ी ही खूबसूरती से बखान करता है। कला प्रेमी दर्शकों की जितनी तारीफ की जाए, कम ही होगी। सम्मेलन की शाम कवियों की शान में वो तालियों की गड़गड़ाहट अभी तक मेरे कानों में मिठास के रूप में गूँज रही हैं। संचालक के रूप में मंच का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए बेहद सौभाग्य की बात है।"


गौरतलब है कि पोरवाल नवयुवक मण्डल एवं गरोठ युवा मंच द्वारा आयोजित इस 30वें अखिल भारतीय विराट कवि सम्मेल का आयोजन शहीद चौक, पुराना बस स्टेण्ड, गरोठ में किया गया था। कविताओं की एक से बढ़कर एक तान और कविताओं के लिए अपने दिलों में विशेष स्थान रखने वाले श्रोताओं के मुँह से निकलते वाह भाई वाह और वाह, क्या बात है जैसे शब्दों का शोर तमाम कवियों की वास्तविक पहचान बता गया। ऐसे में दर्शकों को अगले कवि सम्मेलन का बेसब्री से इंतज़ार है।  


हास्य कवि- संदीप शर्मा के बारे में:


मध्यप्रदेश के धार से कवि संदीप शर्मा का कविताओं से नाता लगभग 30 वर्ष पुराना है। देश के विभिन्न हिस्सों में आयोजित सम्मेलनों में शामिल हुए लाखों लोग कवि शर्मा के काव्य पाठ में गगन-भेदी तालियों की गूँज के गवाह बने हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के कई नेताओं ने समय-समय पर संदीप शर्मा की कविताओं का आनंद लिया है। सोनी टीवी के अत्यधिक लोकप्रिय धारावाहिक 'वाह वाह' में संदीप शर्मा जज रहे। जी टीवी के धारावाहिक 'क्योंकि यह है हास्य कवि मुकाबला' में संदीप शर्मा ने विजेता होकर अद्भुत सफलता प्राप्त की। इसके अलावा एनडीटीवी के धारावाहिक 'अर्ज किया है', एशियन टीवी के धारावाहिक 'हँस गुल्ले', ईटीवी के धारावाहिक 'गुदगुदी', 'कबीरा खड़ा बाजार में', 'होली हंगामा' और 'कलांजली', लाइव इंडिया के धारावाहिक 'क्या बात है' और 'बहुत खूब' के अनेक भागों में करोड़ों दर्शकों द्वारा संदीप शर्मा को खूब सराहा गया। देश को अपनी बेशकीमती कला की सौगात देने के लिए संदीप शर्मा हमेशा ही तत्पर हैं।

Popular posts from this blog

रविवार से लापता युवक का शव मिला:तहकीकात जारी

फिल्मी स्टाईल में सनसनीखेज वारदात:सराफा बाजार में बंदुकधारी बदमाशों ने सब्बल से ताले तोड़े और बोरो में भरकर ले गए जेवरात

जंगल मे पड़ा हुवा था खून से सना हुवा शव: चरवाहे की हत्या की आशंका:पुलिस कप्तान ने किया घटना स्थल का निरीक्षण