लोकतंत्र के पर्व में बुजूर्ग मतदाताओं की भी हिस्सेदारी रही बराबर

 





आगर-मालवा(शब्द संचार)लोकतांत्रिक मताधिकार व्यवस्था में प्रत्येक मतदाता का महत्व बराबर हैं, लेकिन जब कोई दिव्यांग एवं वृद्धजन अपना वोट देने मतदान केन्द्र पहुंचे तो यह महत्व और भी बढ़ जाता है। दिव्यांग एवं वृद्ध मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने के साथ ही नये मतदाताओ को मतदान करने की प्रेरणा देते है। आज जिले के बुजूर्ग मतदाताओं में मतदान को लेकर काफी उत्साह देखा गया, बुजूर्ग मतदाताओं ने अपने परिजनों के साथ मतदान केन्द्रों पर पहुंचकर मतदान कर युवाओं को मतदान करने हेतु प्रेरित किया तथा दिखा दिया कि वे युवा मतदाताओं से कम नहीं है। 

   


जिले के 94 वर्षीय मतदाता लालू गेंदाजी ने व्हील चेयर से आकर मतदान केन्द्र कुण्डला पर अपना मतदान दिया, वहीं शरीफ खां भी स्वयं लकड़ी के सहारे अपने मतदान केन्द्र कन्या माध्यमिक विद्यालय बड़ौद पर जाकर वोट दिया, 88 वर्षीय शिवशंकर स्वर्णकार एवं 85 वर्षीय श्रीमती पार्वती स्वर्णकार वृद्ध दंपत्ति ने अपने पुत्र एवं पुत्रवधू के साथ ’मतदान केंद्र क्रमांक 168 प्राथमिक शाला भवन छावनी आगर मालवा में उत्साह पूर्वक मतदान कर दिखा दिया, कि वे युवा मतदाता से कम नहीं है। 





90 वर्षीय कस्तूरीबाई ने स्कूटी पर आकर किया मतदान

    जिले के ग्राम डोंगरगांव की बुजूर्ग मतदाता कस्तूरी बाई में मतदान को लेकर अलग ही जुनून देखा गया, वे 90 वर्ष की उम्र में किसी से कम नहीं हैं, कस्तूरीबाई ने अपने पौते के साथ स्कूटी पर मतदान केन्द्र पर आकर अपना मतदान का फर्ज निभाया, वहीं जयसिंहपुरा की 90 वर्षीय बालकबाई ने व्हीलचेयर से मतदान केन्द्र पर जाकर मतदान कर लोकतंत्र के महापर्व में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई।

Popular posts from this blog

आगर से भाजपा प्रत्याशी मधु गेहलोत 13002 मतों से व सुसनेर से कांग्रेस प्रत्याशी भैरूसिंह बापू 12645 मतों से जीते

ग्राम झालरा में गिरी आकाशीय बिजली:एक की मौत:एक घायल:नाना बाजार में मंदिर के शिखर का कलश गिरा

विवेकानंद नगर में दिनदहाड़े मोटरसाइकिल चोरी का प्रयास:हलचल की आहट से भाग खड़े हुवे युवक:CCTV में कैद हुवा घटनाक्रम